किशोर न्याय बोर्ड द्वारा एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित

Share

22 सितम्बर 2022, इंदौर: किशोर न्याय बोर्ड द्वारा एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित – जिला बाल संरक्षण सेवा, किशोर न्याय बोर्ड के अंतर्गत कृषि विज्ञान केन्द्र, देवास के माध्यम से मुख्य धारा में किशोरों एवं युवतियों को जोड़ने के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें लगभग 50 किशोरों एवं किशोरियों ने अपनी भागीदारी दी।

मुख्य अतिथि श्रीमती नेहा परस्ते, प्रधान न्यायाधीश, किशोर न्याय बोर्ड, देवास ने अपने उद्बोधन में कहा कि बाल अपराधियों को यदि स्वरोजगारोन्मुख प्रशिक्षण प्राप्त होगा, तो वे रोजगार के अवसर प्राप्त कर सकेंगे एवं अपने जीवन को, समाज में रहकर आय अर्जित कर बेहतर बना सकेंगे। केन्द्र के प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ.ए.के.बड़ाया ने कहा कि अगर इन बच्चों को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए रोजगारन्मुख प्रशिक्षण प्रदान किया जाये तो अवश्य ही बाल अपराध को कम किया जा सकता है। जिसके लिए कृषि विज्ञान केन्द्र देवास द्वारा कृषि से संबंधित मूल्य संवर्धित उत्पादन जैसे आंवला मुरब्बा, आंवला कैण्डी, हल्दी पाउडर, मिर्च पाउडर, विभिन्न तरीके की दाल, बेसन, फू्रट जैम,टोमेटो सॉस आदि बनाकर एवं उसे उचित मूल्य दरों पर बेचकर एक स्वरोजगार प्राप्त कर सकते हैं।

प्रशिक्षण में डॉ. के.एस.भार्गव, वैज्ञानिक, कृषि अभियांत्रिकी द्वारा वर्मी कंपोस्ट एवं कृषि यंत्रों के बारे में जानकारी प्रदान की गई। डॉ. निशीथ गुप्ता, वैज्ञानिक, उद्यानिकी ने प्रो ट्रे द्वारा नर्सरी प्रबंधन , बडिंग ,ग्राफ्टिंग एवं बोनसाई पौधों के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। डॉ. मनीष कुमार, वैज्ञानिक,ने कहा कि पौध संरक्षण द्वारा जैविक खाद जैसे जीवामृत, बीजामृत, फिनाईल,गोनाईल आदि को भी बनाकर विक्रय कर आय अर्जित की जा सकती है। डॉ. लक्ष्मी, वैज्ञानिक, मत्स्य विज्ञान ने बताया कि मत्स्य पालन, रंगीन मत्स्य उत्पादन एवं एक्वेरियम बनाकर भी रोजगार प्राप्त किया जा सकता है। श्रीमती अंकिता पाण्डेय, वैज्ञानिक द्वारा गोबर से दीये, मूमेन्टो, धूपबत्ती, अगरबत्ती, नेमप्लेट, मूर्तियां आदि बनाने की विधि एवं इसकी मार्केटिंग की जानकारी दी गई। कार्यक्रम का संचालन श्री सैय्यद मकसूद अली, सदस्य, किशोर न्याय बोर्ड, देवास ने किया एवं आभार प्रदर्शन श्री अशोक त्रिपाठी, लॉ ऑफिसर, किशोर न्याय बोर्ड द्वारा किया गया।

महत्वपूर्ण खबर: मंदसौर मंडी में सोयाबीन आवक बढ़ी; भाव पिछले साल की तुलना में कम लेकिन एमएसपी से अधिक

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.