बांसवाड़ा में 25 हजार लीटर क्षमता के दुग्ध चिलिंग प्लान्ट इन्स्टालेशन का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

15 फरवरी 2021, जयपुर। बांसवाड़ा में 25 हजार लीटर क्षमता के दुग्ध चिलिंग प्लान्ट इन्स्टालेशन का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश – जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्य मंत्री श्री अर्जुन सिंह बामनिया ने टीएडी व कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि बांसवाड़ा में 25 हजार लीटर क्षमता के दुग्ध चिलिंग प्लान्ट इन्स्टालेशन का प्रस्ताव तैयार किया जाये ।

श्री बामनिया ने टीएडी एरिया में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं व कार्यक्रमों की क्रियान्विति की अधिकारियों के साथ विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि टीएडी एरिया में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं के कार्यों को सम्पादित करने में तेजी लायी जाये।

टीएडी राज्य मंत्री श्री बामनिया ने निर्देश दिये कि महारानी महाविधालय जयपुर में विभाग द्वारा निर्मित बालिका कॉलेज छात्रावास एवं बहुउदे्शीय छात्रावास निर्माण हेतु आंवटित राशि के विरूद्ध बचत राशि से सार्वजनिक निर्माण विभाग विभाग को अवगत करायें तथा इन छात्रावासों हेतु अन्य आवश्यक कार्यो के प्रस्ताव विभाग को प्रस्तुत किये जायें।
उन्होंने वर्ष 2018-19 में जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग को आंवटित 67 कार्यो के विरूद्ध 11 कार्य संचालित करने पर असन्तोष व्यक्त किया व बकाया सभी कार्यो को यथा शीध्र पूर्ण किये जाने हेतु पीएचईडी के अधिकारियों को निर्देश दिये।

श्री बामनिया ने प्रतापगढ़ जिले में स्थित मोटा धामनिया एनिकट कार्य को सक्षम स्वीकृति उपरान्त निरस्त करने पर नाखुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस एनीकट प्रोजेक्ट की क्लीयरेन्स देने हेतु जिला कलक्टर व जिला उप वन संरक्षक सक्षम है उनके स्तर पर इसे क्लीयर करवाया जाये ।

उन्होंने विशिष्ठ शासन सचिव, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग श्रीमती उर्मिला राजोरिया को निर्देश दिये कि मोटा धामनिया एनिकट के डूब क्षेत्र में आने वाले प्रभावित व्यक्तियों को मुआवजा राशि भुगतान के लिए विस्तृत प्रस्ताव तैयार कर वित्त विभाग को प्रेषित किया जाये ।

श्री बामनिया ने निर्देश दिये कि जीवाखूंटा एनिकट निर्माण हेतु स्वीकृत सम्पूर्ण राशि जल संसाधन विभाग द्वारा टीएडी को स्थानान्तरित की जाये। जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्य मंत्री ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के सचिव श्री चिन हरी मीणा को निर्देश दिये कि वर्ष 2016-17 में स्वीकृत एकलव्य मॉडल रेजीडेन्सियल स्कूल जमावारामगढ़ का निर्माण कार्य गुणवतापूर्ण एवं यथाशीध्र पूर्ण करवाया जाये।

श्री बामनिया ने सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा वन क्षेत्र में निर्माणाधीन सड़कों के निर्माण में विलम्ब पर भी असंतोष व्यक्त किया व इन्हें शीघ्र पूर्ण करवाने के निर्देश दिये
उन्होंने कुसुम योजनान्तर्गत सोलर व कृषि कनेक्शन हेतु काश्तकार पेटे देय राशि की वसूली को 2 वर्षो की किश्तों में किये जाने के संबंध में कार्यकारी एजेन्सी डिस्कॉम को संशोधित आदेश जारी करने के निर्देश दिये।

श्री बामनिया ने प्रमुख शासन सचिव, कृषि, श्री कुन्जी लाल मीणा को निर्देश दिये कि बांसवाड़ा में 25 हजार लीटर क्षमता के दुग्ध चिलिंग प्लान्ट इन्स्टालेशन के विस्तृत प्रस्ताव तैयार किये जायें।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।