भारतीय किसान संघ ने किया धरना प्रदर्शन

Share

29 सितंबर 2020, खरगोन। भारतीय किसान संघ ने किया धरना प्रदर्शन भारतीय किसान संघ (भा.कि. सं ) ने अपनी मांगों को लेकर खरगोन में धरना प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन अपर कलेक्टर श्री मिलिंद डोके को सौंप कर उनकी मांगों को पूरा करने की मांग की गई।

महत्वपूर्ण खबर : प्याज बीज के निर्यात पर भी प्रतिबन्ध

कृषक जगत प्रतिनिधि श्री राजीव कुशवाह (नागझिरी ) के अनुसार किसानों ने कहा कि गत दिनों आई तेज़ हवा और बारिश के कारण खरीफ की फसलें बर्बाद हो गई है , अतः सरकार आर.बी.सी .धारा 6 -4 के तहत रबी बुवाई के लिए राहत राशि प्रदान करे. किसानों ने क़र्ज़ माफ़ी दिलाने की भी मांग की. भा.कि.सं . के जिलाध्यक्ष श्री श्याम सिंह पंवार , जिला महामंत्री श्री सदाशिव पाटीदार ,किसान राधेश्याम कुशवाह और श्री जगदीश महगबा आदि ने राज्य सरकार पर किसानों की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए कहा कि किसानों के लिए शासन की निर्धारित योजनाओं का लाभ कागजों तक ही सीमित रह गया है .गत वर्ष खरीफ सीजन में 700 करोड़ की राशि स्वीकृत हुई थी. लेकिन किसानों के खातों में 25 % राशि ही आई. जन सेवक भी चुनाव के दौरान किसान हितैषी बात करते हैं, लेकिन बाद में मुकर जाते हैं।

किसानों ने कृषि अध्यादेश के पारित होने का विरोध एवं एमएसपी निर्धारण /मापदंड पर आक्रोश व्यक्त कर नारे भी लगाए.किसानों ने चेतावनी दी है कि यदि 15 अक्टूबर से खरीफ फसलों हेतु पंजीयन पश्चात खरीदी की व्यवस्था नहीं की गई तो भा.कि.सं. के निमाड़-मालवा के किसान तहसील स्तरीय चरणबद्ध आंदोलन करेंगे, जिसकी समस्त जिम्मेदारी सरकार की रहेगी.

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.