राज्य कृषि समाचार (State News)

टीकमगढ़ में पक्षियों के लिए पेड़ों पर सकोरे बांधे गए

Share

31 मई 2024, टीकमगढ़ : टीकमगढ़ में पक्षियों के लिए पेड़ों पर सकोरे बांधे गए – कलेक्टर श्री अवधेश शर्मा के मुख्य आतिथ्य में पशुपालन विभाग द्वारा तथा शिक्षा नवाचार ग्रुप के तत्वाधान में ग्रीष्मकाल में भीषण गर्मी को देखते हुये पक्षियों को पानी पीने के लिए आज कलेक्ट्रेट कार्यालय परिसर में पेड़ो पर सकोरे बांधे  गए और उनमें पक्षियों के लिये पानी एवं दाना डाला गया। इस दौरान कलेक्टर श्री शर्मा ने सभी नागरिकों से अपील की है कि ग्रीष्मकाल में इस भीषण गर्मी को देखते  हुए  आप सभी भी पशुओं एवं पक्षियों की प्यास बुझाने के लिये अपने-अपने घरों के आसपास पानी एवं खाने का इंतजाम करें।

पशुपालन विभाग तथा शिक्षा नवाचार ग्रुप द्वारा चलाये जा रहे सकोरा अभियान अंतर्गत जिला पंचायत परिसर में भी पेड़ों पर सकोरे बांधे  गए , जिसमें जिला पंचायत सीईओ श्री नवीत कुमार धुर्वे सहित कार्यालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा सकोरों में पानी एवं दाना डाला गया। डिप्टी कलेक्टर श्री एसके तोमर तथा तहसीलदार पलेरा डॉ. अवंतिका तिवारी द्वारा भी सकोरों में पानी एवं दाना डालकर सभी से पशुओं एवं पक्षियों की प्यास बुझाने के लिये अपने-अपने घरों के आसपास पानी एवं खाने का इंतजाम करने की अपील की गई। इस दौरान कलेक्ट्रेट तथा जिला पंचायत कार्यालय परिसर में एक दर्जन से अधिक पेड़ों पर सकोरे बांधे  गए ।

शिक्षक श्री संजय जैन (बड़ागांव) ने बताया कि जिले में पदस्थ शिक्षकों के शिक्षा नवाचार  ग्रुप  द्वारा ग्रीष्मकाल में पक्षियों को दाना एवं पानी देने के लिये सकोरा अभियान विगत तीन वर्ष से चलाया जा रहा है। निरंतर कार्य करते  हुए  कुल 375 सकोरे लगाये जा चुके हैं तथा आगे भी यह कार्य निरंतर जारी रहेगा।  इस अवसर उप संचालक पशु पालन विभाग डॉ आरके जैन, एसएलआर श्री एमएल जैन, पशु चिकित्सक डॉ बीपी अहिरवार, श्री शैलेन्द्र सिंह, शिक्षक श्री अजीत जैन, श्री शिवप्रताप सिंह बुन्देला, परवीन बानो, शाहीन बानो, नेनी सिंघई, प्रीति जैन, निधि जैन, सरोज रैकवार, मिथला खेरा, राजेश नामदेव सहित संबंधित अधिकारीगण तथा शिक्षा नवाचार ग्रुप के सदस्य उपस्थित थे ।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

Share
Advertisements