गुजरात से लाया हुआ कपास का बीज न लगाएं

Share

22  मई 2021, खरगोन  गुजरात से लाया हुआ कपास का बीज न लगाएं वर्तमान समय में खरगोन जिले में खरीफ सीजन प्रारंभ हो चुका है। जिन किसानों के सिंचाई के साधन है, वे अग्रिम रूप से कपास की बुआई कर सकते है। कृषि उप संचालक एमएल चौहान ने कहा कि विगत कई दिनों से सुचना प्राप्त हो रही है कि जिले में कतिपय लोगों द्वारा गुजरात से कपास बीज लाकर 4जी कपास का बीज कहकर किसानों को बेचा जा रहा है। यह अधिकृत किस्म का बीज नहीं है और न हीं शासन द्वारा मान्यता दी गई है। किसान ऐसे लोगों से कपास का बीज न खरीदें। अगर कहीं पर ऐसी कोई स्थिति निर्मित होती है, तो तत्काल कृषि विभाग के स्थानीय अधिकारी को सुचना दें। इसके लिए जिले में कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया हैं, जिसका नंबर 07282-232728 है।

कृषि उप संचालक श्री चौहान ने कहा कि किसान बीज लायसेंसधारी एवं भरोसेमंद विक्रेता से ही कपास खरीदें। कपास बीज खरीदते समय पक्का बिल प्राप्त करें और बिल को अच्छी तरह देख ले कि बिल में कपास बीज का नाम, किस्म लॉट नंबर व कीमत सही अंकित है या नहीं। वहीं समस्त बीज विक्रेता अपने लायसेंस में प्रिंसिपल सर्टिफिकेट इंद्राज करवाने के उपरांत ही बीज विक्रय करें, अन्यथा कार्यवाही की जाएगी।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.