राज्य कृषि समाचार (State News)

राजस्थान में बीजीय मसालों की खेती से होगी आय में वृद्धि : डॉ. यादव

Share

20 मार्च 2023, भोपाल ।  राजस्थान में बीजीय मसालों की खेती से होगी आय में वृद्धि : डॉ. यादव

20 मार्च 2023, भीलवाड़ा ।  राजस्थान में बीजीय मसालों की खेती से होगी आय में वृद्धि : डॉ. यादव –  कृषि विज्ञान केन्द्र एवं सुपारी एवं मसाला विकास निदेशालय, कालीकट केरल द्वारा संयुक्त रूप से बीजीय मसाला फसलों की उन्नत प्रौद्योगिकी  विषय पर एक दिवसीय कृषि प्रशिक्षण कृषि विज्ञान केन्द्र पर आयोजित किया गया।

प्रशिक्षण में केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ. सी.एम. यादव ने कृषकों को बीजीय मसालों की उपयोगिता एवं उनकी खेती करके अधिक आर्थिक लाभ कमाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि मैथी, धनिया, जीरा, सुवा, सौंफ, अजवाइन आदि बीजीय मसालों के उत्पादन से कृषक अधिक लाभ कमा सकते है।

परियोजना प्रभारी डॉ. अभय दशोरा ने परियोजना के उद्देश्य को बताते हुए मसाला फसलों की उन्नत किस्मों की जानकारी कृषकों को दी। आचार्य एवं शस्य वैज्ञानिक डॉ. के.सी. नागर ने बीजीय मसालों के लिए उत्पादन तकनीकी के विभिन्न पहलुओं  पर विस्तृत चर्चा की। सह आचार्य मृदा विज्ञान डॉ. रविकान्त शर्मा ने मसाला फसलों में मृदा आवश्यकताओं व समन्वित पोषक तत्व प्रबंधन पर कृषकों को जानकारी दी। डॉ. सुचित्रा दाधीच, सहायक आचार्य, कृषि महाविद्यालय भीलवाड़ा ने मसाला फसलों के मुल्य संवर्धन व कटाई पश्चात प्रबंधन पर विस्तृत जानकारी दी।

परियोजना सह प्रभारी डॉ. बी.जी. छीपा ने कृषकों को मसालों के विभिन्न उत्पादों में उपयोग एवं औषधीय गुणों की जानकारी किसान बंधुओं को दी। प्रशिक्षण में कुल 60 प्रगतिशली किसानों ने भाग लिया। केन्द्र के सेवानिवृत्त फार्म मैनेजर महेन्द्र सिंह चुण्ड़ावत ने बताया कि कृषकों को मसाला फसलों पर प्रकाशित साहित्य एवं प्रशिक्षण किट वितरित किए गए।

महत्वपूर्ण खबर: राजस्थान में किसानों को सोलर पंप पर 60 प्रतिशत तक का अनुदान

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *