अंतिम छोर के किसान को भी नहर का पानी मिले : श्री पटेल

Share

‘तवा महोत्सव’ मना, डेम से छोड़ा पानी

29 मार्च 2022, भोपाल ।  अंतिम छोर के किसान को भी नहर का पानी मिले : श्री पटेल – कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा है कि प्रदेश में हर किसान को सिंचाई के लिये पानी उपलब्ध कराया जायेगा। नहर के पानी का सिंचाई के लिये लाभ अंतिम छोर के किसान को भी उपलब्ध कराया जाये। उन्होंने तवा डेम के पानी को नहर में समारोह पूर्वक छोड़े जाने के लिये आयोजित तवा महोत्सव में अधिकारियों को निर्देश दिये। जल-संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि प्रदेश की अर्थ-व्यवस्था में किसानों का महत्वपूर्ण योगदान है। नर्मदापुरम के तवा नगर में आयोजित तवा महोत्सव में डेम की बांई तट नहर से ग्रीष्मकालीन मूंग की फसल की सिंचाई के लिये पानी छोड़ा गया।

कृषि मंत्री ने कहा कि कोरोना काल में मूंग की फसल के लिए तवा नहर से पानी छोडऩे से किसानों को करोड़ों रुपए का लाभ हुआ था। उन्होंने कहा कि चना, मूंग एवं गेहूं का समर्थन मूल्य बढऩे से बाजार में इनके मूल्य में वृद्धि हुई है, जिससे किसानों को आर्थिक लाभ हुआ है। उन्होंने जल-संसाधन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि टेल एंड तक नहर का पानी पहुँचाना सुनिश्चित किया जाये, जिससे अंतिम छोर के किसान को भी नहर का पानी मिले। केसला विकासखंड के सभी किसानों को तवा नहर का पानी सिंचाई के लिये उपलब्ध करायें।

जल-संसाधन मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश का चहुँमुखी विकास हो रहा है। श्री चौहान ने प्रदेश के 65 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है। इसे शीघ्र ही पूरा किया जाएगा। मध्यप्रदेश की अर्थव्यवस्था कृषि आधारित है। हरदा एवं नर्मदापुरम् जिले के कुल 80 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में तवा नहर से मूंग की फसल में सिंचाई की जाएगी।

तवा महोत्सव में नर्मदापुरम विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा, सोहागपुर विधायक श्री विजय पाल सिंह, सिवनी मालवा विधायक श्री प्रेम शंकर वर्मा, टिमरनी विधायक श्री संजय शाह, श्री अमर सिंह मीणा, श्री संतोष पारिख के साथ हरदा एवं नर्मदापुरम जिले के किसान बड़ी संख्या में मौजूद थे

महत्वपूर्ण खबर: हरदा में खुलेगा प्रदेश का तीसरा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस : श्री पटेल

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.