राज्य कृषि समाचार (State News)

छत्तीसगढ़ में 14 लाख किसानों को 5738 करोड़ रु. का कृषि ऋण वितरित

Share

22 दिसम्बर 2022, रायपुर । छत्तीसगढ़ में 14 लाख किसानों को 5738 करोड़ रु. का कृषि ऋण वितरित  राज्य में सहकारी बैंकों के माध्यम से अब तक 14 लाख किसानों को 5 हजार 738 करोड़ रूपए का ब्याज मुक्त कृषि ऋण वितरित किया जा चुका है। धान के बदले अन्य फसलों जैसे उद्यानिकी, दलहन-तिलहन एवं मिलेट्स के लिए 17 हजार 818 किसानों को 70 करोड़ रूपए का ऋण वितरण भी किया जा चुका है। अपेक्स बैंक के अध्यक्ष श्री बैजनाथ चन्द्राकर की अध्यक्षता में आयोजित समीक्षा बैठक में यह जानकारी सहकारी बैंकों के अधिकारियों ने दी।

अपेक्स बैंक के अध्यक्ष श्री बैजनाथ चन्द्राकर ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के द्वारा विगत 4 वर्षों में किसानों के हित में अनेक क्रांतिकारी फैसले लिए गए। सहकारी समितियों का विस्तार हुआ और आर्थिक तौर पर मजबूत हुआ। किसानों को सहकारिता के माध्यम से कृषि आदान सहायता राशि किसानों के बैंक खाते में ट्रांसफर की गई, इससे किसान समृद्ध व खुशहाल हुआ। राज्य में किसान हितैषी महत्वाकांक्षी योजना राजीव गांधी किसान न्याय योजना का सफल क्रियान्वयन किया जा रहा है।

जिलेवार समीक्षा बैठक में बताया गया कि 12 दिसम्बर तक छत्तीसगढ़ में 11 लाख 59 हजार 513 किसानों से 44.57 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की जा चुकी है। इसके लिए सहकारी बैंकों के माध्यम से 8 हजार 503 करोड़ रूपए का भुगतान किसानों के बैंक खाते में किया जा चुका है। चालू फसल वर्ष में 6610 करोड़ रूपए के अल्पकालीन कृषि ऋण वितरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। बैठक में धान खरीदी, ब्याज मुक्त कृषि ऋण, धान के अलावा अन्य फसलों के लिए कृषि ऋण, मत्स्य पालन, उद्यानिकी फसल के लिए ऋण, ग्रामीण गौठान-रूरल इंडस्ट्रियल पार्क, वर्मी कम्पोस्ट, किसान क्रेडिट कार्ड और कृषि ऋणों की वसूली की समीक्षा की गई।

बैठक में अपेक्स बैंक के संचालक सदस्य श्री द्वारिका साहू, श्री शंकर सोढ़ी, श्री अजय बंसल, श्री राकेश सिंह ठाकुर, अध्यक्ष जिला सहकारी बैंक जगदलपुर श्री शंकर धुरवा, अम्बिकापुर श्री रामदेव राम, दुर्ग श्री राजेन्द्र साहू, बिलासपुर श्री प्रमोद नायक, अपेक्स बैंक के प्रबंध संचालक श्री के.एन. कांडे, अपेक्स बैंक के डीजीएम श्री भूपेश चन्द्रवंशी, एजीएम श्री अजय भगत, प्रबंधक श्री सी.पी. व्यास, श्री ए.के. लहरे और श्री अभिषेक तिवारी, लेखाधिकारी श्री विमल सिंह एवं श्री प्रभाकर कांत यादव उपस्थित थे।

महत्वपूर्ण खबर: छत्तीसगढ़ की नवीन मछली पालन नीति केबिनेट में मंजूर

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *