प्रधानमंत्री के प्राकृतिक खेती पर दिए उद्बोधन हेतु कार्यक्रम आयोजित

Share

17 दिसंबर 2021, जबलपुर: एक ओर खाद्यान्न उत्पादन में हमारा देश आत्मनिर्भर हो चुका है, बल्कि दूसरे देशों को निर्यात करने में भी सक्षम है , वहीं दूसरी ओर उत्पादन लागत में वृद्धि और कृषि रसायनों के बढ़ते उपयोग से पर्यावरण , मृदा स्वास्थ्य और खाद्यान्न उत्पादों पर कुप्रभाव पड़ना चिंता का विषय है। इसीको ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गत दिनों प्राकृतिक खेती विषय पर देश के किसानों और वैज्ञानिकों से वर्चुअल तरीके से चर्चा की थी।  प्रधानमंत्री के उद्बोधन को किसानों तक पहुंचाने के लिए खरपतवार अनुसन्धान निदेशालय , जबलपुर ने एक कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें 200 किसान शामिल हुए और उन्होंने प्रधानमंत्री का उद्बोधन तल्लीनता से सुना।

कार्यक्रम के आरम्भ में संस्थान के सभी अधिकारियों /कर्मचारियों को निदेशक डॉ जेएस मिश्र ने स्वच्छता की शपथ दिलाई। इस मौके पर डॉ मिश्रा ने कहा कि स्वच्छता की आदत ही स्वस्थ समाज का निर्माण कर सकती है। स्वच्छता में बाधक प्लास्टिक वेस्ट एवं पर्यावरण को बाधा पहुँचाने वाले उत्पादों से भी समाज को मुक्त करने के लिए सामूहिक प्रयास की ज़रूरत है। बताया गया कि निदेशालय में होने वालेआयोजनों /कार्यशालाओं में पर्यावरण के अनुकूल उत्पादों का प्रयोग किया जाता है।

उल्लेखनीय है कि खरपतवार अनुसन्धान निदेशालय, जबलपुर द्वारा 16 से 21  दिसंबर तक स्वच्छता पखवाड़ा आयोजित किया जा रहा है, जिसमें विभिन्न श्रमदान कार्यक्रम , जागरूकता रैली और प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। इन प्रतियोगिताओं में सफल होने वाले अधिकारियों / कर्मचारियों को पुरस्कृत किया जाएगा।  स्वच्छता पखवाड़े की सफलता के लिए गठित समिति के अध्यक्ष डॉ केके बर्मन बनाए गए हैं।  श्री आर हाडगे और अन्य सदस्यों के मार्गदर्शन में स्वच्छता पखवाड़ा संचालित किया जाएगा।

महत्वपूर्ण जानकारी: अफीम उत्पादक किसानों की सूची वर्ष 2021-22

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.