किसानों को होगा केसीसी का वितरण

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

नई दिल्ली। केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना व्यापक एवं महत्वाकांक्षी है और इससे किसानों की आय बढ़ाने में मदद मिलेगी। श्री तोमर इस योजना की पहली वर्षगांठ पर नई दिल्ली में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर श्री तोमर ने ‘पीएम-किसान मोबाइल एप’ लॉन्च किया, जो किसानों को उनके लाभ से संबंधित अनेक तरह की सुविधाओं तक उनकी पहुंच सुलभ कराता है। उन्होंने कहा कि किसान अब अपने आवेदन की ताजा स्थिति जान सकते हैं, अपने-अपने आधार कार्डों को अपडेट या उनमें तब्दीली कर सकते हैं और इसके साथ ही अपने बैंक खातों में डाली गई धनराशि से जुड़ी विस्तृत जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं। इस अवसर पर सचिव कृषि श्री संजय अग्रवाल, सीईओ (पीएम किसान) श्री विवेक अग्रवाल भी थे।

श्री तोमर ने कहा कि पीएम-किसान योजना के लिए चालू वित्त वर्ष में 75 हजार करोड़ का बजट दिया गया है, जिसके तहत प्रत्येक किसान को हर वर्ष छह हजार रुपये दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 50,850 करोड़ रुपये से भी अधिक की राशि पहले ही जारी की जा चुकी है।
श्री तोमर ने कहा कि 8 करोड़ 46 लाख से भी अधिक किसान परिवारों को पीएम-किसान योजना के लाभ दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस योजना के दायरे में आए लाभार्थियों की कुल संख्या लगभग 14 करोड़ है और सरकार का लक्ष्य चालू वित्त वर्ष के आखिर तक 12 लाख किसानों को कवर करना है। उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने साझा सेवा केंद्र (सीएससी) के अलावा किसानों के नामांकन के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू की है।
श्री तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने यह घोषणा की है कि सभी ‘किसान’ लाभार्थियों

कार्यक्रम के दौरान केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर को कृषक जगत डायरी 2020 भेंट करते हुए निदेशक निमिष गंगराड़े।

को किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) दिए जाएंगे, ताकि किसान बैंकों से आसानी से ऋण ले सकें। सरकार ने पशुपालन एवं मत्स्य पालन सेक्टरों को भी केसीसी योजना के दायरे में ला दिया है। श्री तोमर ने कहा कि एक व्यापक वितरण अभियान 29 फरवरी को आयोजित किया जाएगा, जिस दौरान देश भर में फैली 20 हजार बैंक शाखाओं में किसानों को केसीसी जारी किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इस तारीख को उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में आयोजित होने वाले मुख्य समारोह में प्रधानमंत्री स्वयं चुनिंदा किसानों को ‘किसान’ लाभ प्रदान करेंगे और केसीसी कार्डों का वितरण करेंगे। श्री तोमर ने कहा कि 10 हजार नये किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) का पंजीकरण कराया जा रहा है और कृषि को बढ़ावा देने के लिए प्रत्येक एफपीओ को सरकार से 15 लाख रुपये की सहायता मिलेगी।
इस अवसर पर कृषि, सहयोग एवं किसान कल्याण विभाग में सचिव श्री संजय अग्रवाल ने कहा कि विभाग जून 2020 तक मृदा स्वास्थ्य कार्ड, केसीसी और पीएम-किसान जैसी प्रमुख योजनाओं को कवर करने वाले एक व्यापक किसान डेटाबेस को अंतिम रूप देगा।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − 2 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।