एफपीओ परिवार कृषि क्षेत्र में बड़ा बदलाव लाएंगे : श्री रूपाला

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

10 हजार एफपीओ के गठन एवं संवर्धन योजना की पहली वर्षगांठ

08 मार्च  2021, नई दिल्ली। एफपीओ परिवार कृषि क्षेत्र में बड़ा बदलाव लाएंगे : श्री रूपाला –  10,000 किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) के गठन एवं संवर्धन संबंधी केंद्रीय क्षेत्र की योजना की प्रथम वर्षगांठ पर कृषि मंत्रालय में गत दिनों कार्यक्रम हुआ। जिसमें केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री श्री परषोत्तम रूपाला ने कहा कि 10 हजार एफपीओ का बनने वाला परिवार खेती-किसानी को तो आगे बढ़ाएंगा ही, व्यावसायिक रूप के साथ-साथ देश में सामाजिक रूप से भी महत्वपूर्ण योगदान देगा। श्री रूपाला ने कहा कि कृषि उपज/उत्पाद स्पेसिफिक एफपीओ बनने से किसानों को और भी ज्यादा लाभ होगा। अभी छोटी जोत की समस्या है, लेकिन एफपीओ बनने से किसान समूहों के रूप में संगठित होंगे तो वे एक बड़ी ताकत होंगे और यह संगठन शक्ति कृषि क्षेत्र में बड़ा बदलाव लाएंगी।

राज्य मंत्री श्री कैलाश चौधरी ने कहा कि 10 हजार एफपीओ किसानों के जीवन में बड़ा परिवर्तन लाएंगे। उन्होंने लक्षित एफपीओ का समयबद्ध गठन करने का आव्हान किया।
कृषि सचिव श्री संजय अग्रवाल व नाबार्ड के चेयरमैन डॉ. जी.आर. चिंतला ने भी संबोधित किया। कृषि मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव श्री अभिलाक्ष लिखी तथा संयुक्त सचिव श्री पी.के. स्वाईं सहित अनेक अधिकारी उपस्थित थे। देशभर के एफपीओ के पदाधिकारी, सदस्य तथा एजेंसियों के अधिकारी भी ऑनलाइन शामिल हुए।

लघु, सीमांत एवं भूमिहीन किसानों को, एफपीओ से जोडऩे से किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए उनकी आर्थिक क्षमता एवं बाजार संपर्क बढ़ाने में सहायता मिलेगी।
इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने 10,000 एफपीओ के गठन एवं संवर्धन नामक स्कीम आरंभ की है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गत 29 फरवरी 2020 को चित्रकूट (उत्तर प्रदेश) में 6865 करोड़ रूपए के बजटीय प्रावधान के साथ इस योजना का औपचारिक रूप से उद्घाटन किया था।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।