भारत में इस वर्ष 10 लाख ट्रैक्टर बिकने का अनुमान

Share

02 सितम्बर 2022, नई दिल्ली: भारत में इस वर्ष 10 लाख ट्रैक्टर बिकने का अनुमान – कृषि प्रधान  भारत वर्ष 2022-23 में 10 लाख  ट्रैक्टर बिक्री का आंकड़ा  पार कर जाएगा, जिससे भारत  कृषि मशीनरी बाजार में अब तक का सबसे सक्रिय देश बन जाएगा। ईआईएमए एग्रीमैक इंडिया (EIMA Agrimach India) एग्जिबिशन के दौरान जारी किए गए आंकड़े एक ऐसे बाजार का वर्णन करते हैं जो 2009-2019 की दस वर्ष की अवधि में दोगुने से अधिक हो गया है । और आज चीन, संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोप से स्पष्ट रूप से भारत  आगे निकल गया है।

EIMA Agrimach प्रदर्शनी गत 1 सितम्बर  को  बैंगलोर में कृषि विज्ञान विश्वविद्यालय के परिसर में शुरू हुई और 3 सितम्बर  को समाप्त होगी। यह भारतीय उपमहाद्वीप में कृषि यंत्रीकरण के क्षेत्र में प्रमुख  प्रदर्शनी है।

फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (FICCI) और इटैलियन फेडरेशन ऑफ मैन्युफैक्चरर्स फेडर यूनाकोमा (Feder Unacoma) द्वारा आयोजित प्रदर्शनी, भारतीय बाजार के लिए एक प्रचार और वाणिज्यिक मंच है जो दुनिया में सबसे बड़ी बिक्री केंद्र  में से एक के रूप में उभरा है। 2009 में, ईआईएमए एग्रीमैक इंडिया (EIMA Agrimach India) का पहला संस्करण नई दिल्ली में आयोजित किया गया था।

भारत में बिक्री का मौजूदा स्तर दुनिया के सभी प्रमुख बाजारों से कहीं अधिक है। वित्तीय वर्ष 2021-22 में चीन 4.70 लाख ट्रैक्टरों की बिक्री पर पहुंच गया, संयुक्त राज्य अमेरिका 3.18 लाख और यूरोपीय संघ 1.80 लाख पर रहा। कृषि-यांत्रिकी विश्लेषकों का कहना है कि देश के मशीनीकरण के स्तर का आकलन बेची गई मात्रा के आधार पर ही नहीं किया जाना चाहिए, बल्कि हासिल की गई तकनीकों की गुणवत्ता के आधार पर भी किया जाना चाहिए।

महत्वपूर्ण खबर: लहसुन, प्याज के किसानों की मांग लेकर कृषि मंत्री पटेल दिल्ली में

भारतीय कृषि का लक्ष्य फल और सब्जी उत्पादन और विशेष फसलों को बढ़ाना और सभी मुख्य उत्पादन श्रृंखलाओं को यंत्रीकृत करना है। इन सभी जरूरतों के लिए, अधिक विशिष्ट और कुशल ट्रैक्टर, उपकरण और मशीनरी की आवश्यकता होती है, और यह भारतीय बाजार में  विकास की संभावनाएं प्रस्तुत करता  है।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *