पशुओं की नस्ल सुधरेगी, दुग्ध उत्पादन बढ़ेगा

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
पशुपालन मंत्री श्री यादव अमेरिका यात्रा से लौटे

भोपाल। प्रदेश में उन्नत नस्ल के पशुओं की संख्या बढ़ाने के लिए किसानों को नि:शुल्क मादा गर्म भ्रूण उपलब्ध कराने तथा दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के उद्देश्य को लेकर भोपाल में 48 करोड़ रूपये की लागत से सेक्स सार्टेड सीमेन प्रयोगशाला की स्थापना की जा रही है जिसके लिए सेक्सिंग टेक्नालॉजी एसटी जेनेटिक्स यूएसए से अनुबंध किया गया है। यह जानकारी पशुपालन, मछुआ कल्याण तथा मत्स्य विकास मंत्री श्री लाखन सिंह यादव ने कृषक जगत को एक विशेष मुलाकात में दी।

श्री यादव ने बताया कि इस उन्नत प्रयोगशाला की स्थापना राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम के भदभदा, भोपाल स्थित केंद्रीय वीर्य संस्थान में की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रयोगशाला की स्थापना के पूर्व उसके संबंध में विस्तृत जानकारी लेने के लिये वे एवं विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री मनोज श्रीवास्तव एवं कुक्कुट विभाग निगम के एम.डी. डॉ. एच.बी.एस. भदौरिया ने गत दिनों नवासोटा टेक्सास (अमेरिका) स्थित प्रयोगशाला एवं हाईटेक गौशालाओं का निरीक्षण किया।

पशुपालन मंत्री ने बताया कि 10 दिवसीय अध्ययन यात्रा  के दौरान न्यूयार्क, कोलम्बस, ओहयो, शिकागो, बियाना, मेडीसन, वाशिंगटन डीसी एवं न्यूजर्सी में सेक्स सार्टेड लैब, गाय में भ्रूण प्रत्यारोपण तकनीक तथा मार्डन डेयरी फार्म का भ्रमण कर उन्नत तकनीक का अध्ययन किया और समस्त जानकारी ली। उन्होंने बताया कि 48 करोड़ रूपये लागत की ऐसी प्रयोगशाला म.प्र. में होगी। 

श्री लाखन सिंह यादव ने बताया कि म.प्र. पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम तथा सेक्सिंग टेक्नालॉजी कंपनी के बीच अनुबंध हुआ है। इसके मुताबिक कंपनी को 14 करोड़ रूपये अग्रिम भुगतान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके लिए भारत सरकार ने 15.6 करोड़ रूपये स्वीकृत किए है। श्री यादव ने बताया कि प्रदेश में स्थापित होने वाली इस प्रयोगशाला से देशी नस्ल की गिर, थारपारकर साहीवाल गाय और मुर्रा नस्ल की भैंस के नस्ल उत्पादन में वृद्धि होगी तथा दूध उत्पादन भी बढ़ेगा और 90 फीसदी अच्छी नस्ल की बछिया पैदा होंगी।

क्या है एस.टी.यू.एस.ए.?अमेरिका की सेक्सिंग टेक्नालॉजी कंपनी विश्व की एक मात्र सीमेन सेक्स सार्टेड प्रयोगशाला की जनक है। इस कंपनी के द्वारा विश्व के 23 देशों में सीमन सेक्स सार्टेड प्रयोगशाला की स्थापना की गई है। इसमें यू.एस.ए., आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, फ्रांस, इटली, जर्मनी, नीदरलैंड, यू.के., चीन एवं भारत  प्रमुख है।
व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six + 10 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।