मंडी रेट (Mandi Rate)

आज का कपास मंडी रेट (21 अप्रैल 2023 के अनुसार)

Share

21 अप्रैल 2023, नई दिल्ली: आज का कपास मंडी रेट (21 अप्रैल 2023 के अनुसार) – नीचे दी गई तालिका में पूरे भारत में कपास की मंडी दरें हैं। इसमें कपास की न्यूनतम, अधिकतम और मोडल दर का उल्लेख है |

मध्य भारत में सबसे ज्यादा रेट मध्य प्रदेश की झाबुआ मंडी में था। अधिकतम रेट 8130/- रु./क्विं. था और मंडी में कुल 13.5 टन आवक थी। नीचे भारत की मंडियों की पूरी सूची और उसके साथ दरें दी गई हैं।

देश की प्रमुख मंडियों में कपास के मंडी रेट और आवक (21 अप्रैल 2023 के अनुसार)
गुजरात मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
बोडेली90.27780080257900
चोटिला20770085008000
धनसुर2700077507650
हलवाड़69.54700081358000
हिम्मतनगर48.4755584007978
जंबूसर0.1760080007800
जंबूसर (कावी)1740078007600
जामनगर68.3700082757780
जसदान90730082758000
महुवा (स्टेशन रोड)2.9500080506525
मानवदार52.9757584008100
मोरबी24725081307690
राजकोट281755583908055
सावरकुंडला16.8725582557755
सायला15.8750083007900
तालेजा37.8625081857220
थारा115795581108032.5
मध्य प्रदेश मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
अलीराजपुर6650075007000
झाबुआ13.5800081308065
महाराष्ट्र मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
देवुलगांव राजा300720078407700
कटोल13720078007560
नरखेड47770078507750
यावल6738078607550
राजस्थान मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
बिजय नगर12760082278150
तमिलनाडु मंडीआवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
बोडिनायक्कनूरNR700082007600
थेनी0.01670068006750
थिरुमंगलमNR690074007000
तेलंगाना मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
आदिलाबादNR633274107410
अमंगल60700070007000
बुर्गम्पाडु21650065006500
चिट्याल1598061806080
हलियाNR638063806380
इंद्रवेल्ली (उत्नूर)0.2721074507450
खम्मम121.4500076007300
कोडाकांडल6NRNR7500
कुबेर23.6650077507200
पिटलम31.02800080008000
आज का कपास मंडी रेट (21 अप्रैल 2023 के अनुसार)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *