किसानों की सफलता की कहानी (Farmer Success Story)

स्प्रिंकलर लगाया तो किसान को मिली तीसरी फसल प्याज की

Share

18 जनवरी 2023, देवास: स्प्रिंकलर लगाया तो किसान को मिली तीसरी फसल प्याज की – मध्य प्रदेश के देवास जिले की हाटपिपल्या तहसील के कृषक विक्रम पिता कालूजी ने अपने खेत में स्प्रिंकलर सिस्टम लगाया . स्प्रिंकलर से हुई सिंचाई और उस से हुए लाभ से विक्रम आनंदित हैं . पढ़िए उनकी कहानी , उनकी जुबानी |मैं अपनी 1 हेक्टेयर भूमि पर सोयाबीन एवं गेहूं की फसल लेता था। मेरी कृषि भूमि पर सिंचाई का स्त्रोत कुआं है जिससे मैं अपनी भूमि को सिंचित करता हूं। कुंए में पानी अपर्याप्त होने की वजह से मैं अपने खेत को पूर्णतः सिंचित कर पाने में विफल था। जिसकी वजह से मेरी फसलों की पैदावर अच्छी नहीं हो पाती थी एवं मुझे आर्थिक रूप से नुकसान हो रहा था। फिर मुझे किसान पाठशाला एवं कृषि विभाग बागली के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी से प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना में लगने वाले  स्प्रिंकलर सिस्टम की जानकारी प्राप्त हुई।

वर्ष 2021 में मुझे इस योजना में  स्प्रिंकलर सिस्टम यूनिट पर 12000 रुपए का अनुदान प्राप्त हुआ। अब मैं कुएं में उपलब्ध जल की सीमित मात्रा से फव्वारा विधि द्वारा अपनी फसलों को पूर्णतः सिंचित करने में समर्थ हो सका हूं एवं इससे मेरा आर्थिक लाभ भी बढ़ा है। भूमि सिंचित होने की वजह से मैं अब अपने खेत में तीसरी फसल के रूप में प्याज की फसल भी लेने लगा हूं। जिससे मेरी आय में इजाफा हुआ है। विक्रमसिंह अपनी इस सफलता के लिए देवास जिले के कृषि विभाग और अधिकारियों  का आभार मानते हैं .मोबाइल नं. – 9174173097

महत्वपूर्ण खबर: गेहूँ मंडी रेट (17 जनवरी 2023 के अनुसार)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *