महिंद्रा ने एमआईटीआरए में शत प्रतिशत हिस्सेदारी ली

Share

22 मार्च 2023, मुंबई: महिंद्रा ने एमआईटीआरए में शत प्रतिशत हिस्सेदारी ली – महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड के फार्म इक्विपमेंट सेक्टर (एफईएएस) ने  मित्रा एग्रो इक्विपमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड (एमआईटीआरए) में हिस्सेदारी का अधिग्रहण पूरा कर लिया है। इसके साथ ही, एमआईटीआरए  में महिंद्रा की हिस्सेदारी मौजूदा 47.33% से बढ़कर 100% हो गई है और यह महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड (एमएंडएम) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी बन गई है। इस अधिग्रहण प्रक्रिया में, महिंद्रा ने व्यवसाय में ओमनिवोर की हिस्सेदारी को पूरी तरह से खरीद लिया।

देवनीत बजाज द्वारा 2012 में स्थापित, एमआईटीआरए  उच्च परिशुद्धता ऑर्चर्ड स्प्रेयर में भारतीय बाजार में अग्रणी है। यह अंगूर, अनार और संतरे जैसे फल उगाने वाले किसानों के लिए एक विश्वसनीय ब्रांड है। कंपनी ने वित्त वर्ष 18 से वित्त वर्ष 22 तक अपने राजस्व को तीन गुना से अधिक कर लिया है। वर्तमान में, इसके कर्मचारियों की संख्या 200 से अधिक है। इसने वैश्विक स्तर पर अपने उत्पादों का सफलतापूर्वक निर्यात करना शुरू कर दिया है। महिंद्रा द्वारा अधिग्रहण के बाद, एमआईटीआरए ने भारत और विदेशी बाजारों में अपने नेटवर्क के साथ-
साथ अपने उत्पाद पोर्टफोलियो के विस्तार में तेजी लाने की योजना बनाई है। एमआईटीआरए तत्कालीन नए भारतीय एग्रीटेक स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र का एक प्रारंभिक प्रवेशकर्ता था। वेंचर कैपिटल फर्म, ओमनिवोर – जिसने भारत में एग्रीटेक निवेश की शुरुआत की – इसके प्रथम संस्थागत निवेशकों में से एक थी। एमआईटीआरए  ने किसानों की जरूरतों और आकांक्षाओं को समझा और श्रम प्रधान कृषि नौकरियों को स्वचालित करने और संसाधनों को बचाने के लिए मशीनों का निर्माण किया।

महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड के फार्म इक्विपमेंट सेक्टर के प्रेसिडेंट, हेमंत सिक्का ने कहा  “महिंद्रा का लक्ष्य 5 वर्षों में अपने कृषि मशीनरी व्यवसाय को 10 गुना बढ़ाना है और यह इस लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। एमआईटीआरए में अतिरिक्त शेयर खरीद लेने से महिंद्रा के विकास और बढ़ते बागवानी बाजार में विस्तार में मदद मिलेगी।

एमआईटीआरए के संस्थापक, देव बजाज ने कहा, “ग्यारह वर्षों में एक उत्साही टीम के निर्माण, दस से अधिक नवीन उत्पादों के विकास, और जबरदस्त ग्रामीण बिक्री रणनीति के निर्माण के बाद, एमआईटीआरए से एमएंडएम तक की यात्रा संतुष्टिदायक है। मैं एमआईटीआरए टीम और ओमनिवोर का आभारी हूं कि उन्होंने नवाचार के साथ भारतीय कृषि में सुधार की दृष्टि का दृढ़ता से समर्थन किया। देव, अब ड्रीम स्पोर्ट्स के चीफ स्ट्रेटजी ऑफिसर हैं और भारत के सबसे बड़े सीवीसी फंड्स में से एक, ड्रीमकैपिटल के प्रमुख हैं।

ओमनिवोर के मैनेजिंग पार्टनर, मार्क कान ने कहा,  “दस साल पहले, देव ने भारतीय स्टार्ट-अप इकोसिस्टम के भविष्य के निर्माण के लिए अमेरिकी सपने का सहारा किया, जिसकी शुरुआत एमआईटीआरए  के साथ हुई। महिंद्रा के विस्तृत डीलर नेटवर्क के माध्यम से, एमआईटीआरए की अत्याधुनिक तकनीक अब पूरे भारत में बागवानी किसानों के लिए सुलभ होगी। इस स्टार्ट-अप में पहले संस्थागत निवेशक के रूप में, यह ओमनिवोर और भारत में एग्रीटेक के लिए बहुत ही गर्व का क्षण है। “

महिंद्रा विभिन्न फसल चक्रों में भारत में कृषि के मशीनीकरण में दूसरी क्रांति की शुरुआत कर रहा है। जापान, फ़िनलैंड और तुर्की में तीन वैश्विक प्रौद्योगिकी उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करके, महिंद्रा भारतीय कृषि को बेहतर बनाने के लिए उपयोगी नवाचारों की पहचान करने और उन्हें अपनाने के मिशन पर है।50 से अधिक देशों में मौजूदगी और दुनिया के सबसे बड़े ट्रैक्टर निर्माता के रूप में महिंद्रा फार्म इक्विपमेंट सेक्टर लगातार कृषि क्षेत्र की बदलती जरूरतों को पूरा करने की दिशा में काम कर रहा है। किसानों के लिए अग्रणी प्रौद्योगिकियां प्रदान करके, महिंद्रा अपनी ‘ट्रांसफ़ॉर्म फार्मिंग, एनरिच लाइव्स ‘की विचारधारा पर खरा उतरा है।

महत्वपूर्ण खबर: गेहूँ मंडी रेट (20 मार्च 2023 के अनुसार)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *