जैविक खेती को अधिक से अधिक अपनायें कृषक बन्धु : श्रीमती चिटनीस

Share

(जय गंगराड़े)
बुरहानपुर।  किसान भाई जैविक खेती को अधिक से अधिक अपनायें, ताकि भूमि की उर्वराशक्ति हमेशा बनी रहें। यह बात कृषि उपज मंडी परिसर में आयोजित तीन दिवसीय कृषि मेले में प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस ने कही।
उन्होंने कहा कि 8 वर्ष पूर्व में जैविक खेती की बात होती थी। लेकिन इसकी शुरूआत अब जिले में होने लगी है। जैविक खेती का अनुसरण किसान भाई करने लगे हैं। उन्होंने किसानों से अनुरोध किया कि पानी का संरक्षण करें। उन्होंने कहा कि जितना पानी हम जमीन से लेते हैं, उतना ही पानी जमीन में डालने की चिंता करनी चाहिए क्योंकि पानी अनमोल है। इसे बचाना बहुत जरूरी हैं। मेले में बाहर से आये हुए वैज्ञानिकों ने किसानों को उन्नत कृषि की तकनीक बताई। मेेले में नरसिंहपुर से आये श्री ताराचंद बेलजी ने किसानों को जैविक खेती के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि जैविक खेती के बारे में किसानों को पूरी जानकारी होनी चाहिए। उन्होंने पंचगव्य का महत्व बताते हुए कहा कि यह डीएपी से ज्यादा असरदार होता हैं। इसी प्रकार मेले में लखनऊ से आये वैज्ञानिक श्री एस.एस.श्रीवास्तव ने किसानों को आम, अमरूद व सेब की सघन खेती के बारे में बताया। साथ ही किसानों द्वारा पूछे गये प्रश्नों के जवाब देकर उनका समधान भी किया। इस अवसर पर नगर निगम अध्यक्ष श्री मनोज तारवाला, जनपद अध्यक्ष श्री किशोर पाटील, श्री विजय गुप्ता, श्री राजाराम पाटीदार सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं कृषि एवं उद्यानिकी विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। आत्मा परियोजना संचालक ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *