कृषि में आधुनिक तकनीक अपनाएं : श्री सिंह

Share

सहकारी विकास निगम की बैठक

नई दिल्ली। राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम की सामान्य परिषद की 77वीं बैठक के अवसर पर केद्रीय कृषि मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि सरकार कृषि क्षेत्र में आधुनिक तकनीको के इस्तेमाल की इच्छुक है। उन्होंने जोर देकर कहा कि प्रधानमंत्री खेती की पद्धतियों के आधुनिकीकरण के जरिये कृषि क्षेत्र में नई जान डालने और गुणवत्ता पर समझौता किए बगैर फसल की उत्पादकता बढ़ाने को महत्व देते हैं। श्री सिंह ने कहा कि प्रति बूंद अत्याधिक फसल लेने के लिए प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लक्ष्य खेती-बाड़ी की गतिविधियों को ज्यादा कारगर बनाना और खेत की उत्पादकता बढ़ाना है। श्री सिंह ने कहा कि उत्पादकता बढ़ाना जहां ऊर्जावान कृषि क्षेत्र के लिए एक अनिवार्य घटक है, वहीं फसल कटाई के बाद उस के रखरखाव और प्रसंस्करण में भी सुधार लाना आवश्यक है ताकि मूल्यवर्धन, बर्बादी में कमी और अच्छी गुणवत्ता वाले उत्पाद बाजारों तक पहुंचे। उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में कृषि संबंधी सहकारी समितियों की भूमिका महत्वपूर्ण है, एनसीडीसी से उन्हें पूरा सहयोग मिलेगा। श्री सिहं ने कहा कि कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था की केद्र बिंदु है। उन्होंने ·हा कि बड़ी संख्या में ग्रामीण परिवारों की आजीविका कृषि से संबद्ध है। उन्होंने कहा कि देश कई वस्तुओं, अनाज, फल, सब्जियों, दूध, अंडे और जूट का प्रमुख उत्पादक है। बढ़ते अनाज भंडार और उच्च मूल्य वाली वस्तुओं के उत्पादन वाले इस परिदृश्य में बाजार सम्पर्क में सुधार बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.