हरे चारे का साइलेज विधि द्वारा संरक्षण

साइलेज बनाना इसे हरे चारे के अचार के रूप में भी जाना जाता है। यह चारे को संरक्षित करने का एक महत्वपूर्ण तरीका है। साइलेज अवायवीय स्थिति में उच्च नमी वाली फसलों के नियंत्रित किण्वन का परिणाम है। फसलों में

Read more

चारा उत्पादन पर तकनीकी सलाह

कृषि विज्ञान केन्द्र, पन्ना के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ. बी.एस. किरार एवं डॉ. आर.के. जायसवाल वैज्ञानिक द्वारा ग्राम मनौर मेहरा चारा उत्पादक कृषक संतोष यादव के खेत पर जाकर रिजिका बाजरी हरे चाले वाली फसल के विपुल उत्पादन पर

Read more

हाइड्रोपोनिक चारा उत्पादन एक लाभदायी तकनीक

पशु उत्पाद जैसे दूध और मांस की उत्पादन लगत में डेन और चारे का योगदान 60 से 70 प्रतिशत तक है जिसमे 30-35 प्रतिशत योगदान हरे चारे का होता है। देश में हरे चारे की मांग (2010) 816.8 मिलियन टन

Read more
Advertisements

चारे में प्रमुख रोग एवं निदान

बाजरे की मदुरोमिल आसिता या हरित बाली रोग: रोगजनक : यह एक मृदोढ़ रोग है। इसका रोगकारक स्क्लेरोस्पोरा ग्रैमिनिकॉला नामक कवक है। लक्षण: दोनों सर्वांगी और स्थानीय संक्रमण होते हैं। मिट्टी जनित बीजाणु युवा पौध में सर्वांगी संक्रमण करते है।

Read more

जल कृषि से चारा उत्पादन एवं पशुओं के लिए उपयोगिता

हाइड्रोपोनिक्स या जल कृषि शब्द ग्रीक शब्द से लिया गया है जिसका अर्थ है पानी में कार्य करना अत: इस तकनीक में पौधों को बिना मिट्टी के सिर्फ खनिज घोल वाले जल में उगाया जाता है। इसमें की जाने वाली

Read more