कृषकों की जलवायु अनुरूप फसलों की किस्मों का चयन करने की ज़रूरत

Share

5 अगस्त 2022, पोकरण (राजस्थान ) । कृषकों की जलवायु अनुरूप फसलों की किस्मों का चयन करने की ज़रूरत – कृषि विज्ञान केन्द्र पोकरण पर केन्द्र की 10वीं वैज्ञानिक सलाहकार समिति बैठक का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि निदेशक अनुसन्धान निदेशालय स्वामी केशवानन्द राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय, बीकानेर डॉ. प्रकाश सिंह शेखावत ने वार्षिक प्रतिवेदन पर अपने सुझाव प्रस्तुत करते हुये जिले की भोगोलिक आवश्यकताओं को ध्यान मे रखकर खेती की नवीनतम तकनीकियों को अपनाने पर ज़ोर दिया। निदेशक प्रसार शिक्षा निदेशालय डॉ सुभाष चन्द्र ने अध्यक्षता करते हुये कृषि वैज्ञानिकों को क्षेत्र की जलवायु अनुरूप फसलों की किस्मों का चयन करने की आवश्यकता बताई इन किस्मों को अनुसंधान संस्थानों से किसानों के खेतों तक पहुंचाने पर बल दिया।

बैठक में उपनिदेशक कृषि विस्तार राधेश्याम नारवाल, प्रह्लाद चंद शर्मा उपनिदेशक राजकीय कृषि अनुसन्धान केन्द्र नाचना, डॉ. सुरेन्द्र सिंह तंवर वरिष्ठ पशु चिकित्सा अधिकारी, खीमकरण उज्जवल मुख्य व्यवस्थापक क्रय विक्रय सहकारी समिति पोकरण, पृथ्वीराज सोलंकी प्रभारी पशु चिकित्सालय रामदेवरा, सत्यनारायण यादव, महेंद्र यादव सहायक कृषि अधिकारी एवं प्रगतिशील किसानो के साथ साथ अन्य कृषि वैज्ञानिक एवं अधिकारीगण भी उपस्थित रहे। बैठक के उपरान्त निदेशक प्रसार शिक्षा निदेशालय ने बताया कि केन्द्र के कृषि वैज्ञानिकों को किसानों के हित के लिए काम करना चाहिये ताकि पोकरण क्षेत्र के किसान वैज्ञानिक तरीके से खेती करने के लिए तैयार हो पाये।

उपनिदेशक कृषि विस्तार राधेश्याम नारवाल ने क्षेत्र के अनुकूल बेर, अनार, खजूर, केंद्र पर नर्सरी तैयार करने व अन्य क्षेत्रों में किसानों को आकर्षित करने एवं आजीविका का साधन बनाने की बात कही ।

प्रह्लाद चंद शर्मा ने बताया की केंद्र के माध्यम से नवीनतम कृषि अनुसंधान का प्रसार प्रचार करने को कहा ताकि किसान उससे प्रभावित होकर अपने खेतों में समन्वित कृषि प्रणाली अपनाकर अपनी आय को बढ़ा सके। वैज्ञानिक किसानों की कृषि तकनीक से सम्बन्धित समस्याओं का समाधान करेंगे तभी केवीके का उद्देश्य पूरा होगा। कार्यक्रम में लीड बैंक मेनेजर जैसलमेर चंद्रशेखर गर्ग ने केंद्र की गतिविधियों में विभाग के साथ सामंजस्य स्थापित कर प्रशिक्षण आयोजित करवाने आवश्यकता बताई।

बैठक में कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. कृष्ण गोपाल व्यास, सुनील कुमार शर्मा, डॉ. रामनिवास ने भी अपने अपने विषय में किए गए कार्य को प्रस्तुत किया। बैठक में उपस्थित प्रगतिशील किसान ओम सिंह, भजनलाल, दीपाराम, जेठी देवी, लच्छु देवी एवं अन्य विभागों से आये हुये अधिकारीगणों ने अपने अपने सुझावों से अवगत कराया ।

महत्वपूर्ण खबर:एग्री इंफ्रा फंड योजना में राजस्थान सम्मानित

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.