राज्य कृषि समाचार (State News)

नौकरी के लिए कृषि छात्र हुए अर्धनग्न

Share

(इन्दौर कार्यालय)

इंदौर। बरसों से बेरोजगार कृषि छात्र एक बार फिर आंदोलन करने को मजबूर हुए हैं। कृषि विभाग में 2008 के बाद से रिक्त पड़े पदों की पूर्ति करने की मांग को लेकर बेरोजगार कृषि छात्रों ने गत दिनों अर्धनग्न होकर कृषि महाविद्यालय इंदौर से कलेक्टोरेट तक प्रदर्शन किया और कलेक्टर की गैर मौजूदगी में एडीएम श्री कैलाश वानखेड़े को ज्ञापन सौंपा।
आंदोलनरत छात्रों के अनुसार कृषि विभाग में 2008 के बाद से नौकरी के लिए कोई विज्ञप्ति नहीं निकली है। कृषि विभाग में 7 हजार से अधिक पद खाली पड़े हैं, लेकिन इन रिक्त पदों को नहीं भरा जा रहा है। अपनी इस मांग को लेकर तत्कालीन शिवराज सरकार के समय भी भोपाल में प्रदर्शन किया था, लेकिन कुछ नहीं हुआ। तब कांग्रेसियों ने प्रदर्शनकारियों से कांग्रेस की सरकार बनने पर रिक्त पदों को भरने का आश्वासन दिया था। राज्य में अब कांग्रेस की सरकार को सवा साल हो गया, लेकिन अब तक इन रिक्त पदों को नहीं भरा गया है। इस कारण कई छात्र तो आयु सीमा भी पार कर चुके हैं। छात्रों की शिकायत है कि 11 फरवरी से धरना प्रदर्शन जारी है। कृषि मंत्री श्री सचिन यादव ने छात्रों से चर्चा के लिए मिलने आने को कहा था, लेकिन नहीं आए। फोन भी नहीं उठा रहे हैं।
सरकार का कोई नुमाइंदा भी इनसे मिलने नहीं आया है. इससे आंदोलनकारियों में आक्रोश है। जल्द मांगे नहीं माने जाने पर मशाल जुलूस निकालेंगे। बता दें कि बेरोजगार कृषि छात्रों का यह आंदोलन अब व्यापक होता जा रहा है।
ग्वालियर और जबलपुर कृषि महाविद्यालय के छात्र भी धरने पर बैठे हैं। यह छात्र कल जवाहरलाल नेहरू कृषि वि. वि. से बिरसामुंडा चौक तक रैली निकालकर मंत्री श्री लखन घनघोरिया को ज्ञापन सौंपेंगे। इसके बाद आंदोलनकारी राजधानी का रुख करेंगे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *