देश में सोयाबीन का रकबा बढ़ा

Share

सोया राज्य म.प्र. में घटा, महाराष्ट्र में बढ़ा

31अगस्त 2021, भोपाल । देश में सोयाबीन का रकबा बढ़ा – सोया राज्य कहलाने वाले म.प्र. में इस वर्ष सोयाबीन का रकबा गत वर्ष की तुलना में घटा है। वहीं राजस्थान में भी सोयाबीन की बुवाई कम क्षेत्र में हुई है परन्तु महाराष्ट्र में सोयाबीन का रकबा बढ़ा है। सोयाबीन लेने वाले अन्य राज्यों में भी रकबा बढ़ा है इस कारण एक ओर जहाँ देश में खरीफ की कुल बुवाई पिछड़ रही है वहीं दूसरी तरफ सोयाबीन की बोनी गत वर्ष की तुलना में बढ़ गई है। देश में अब तक 123 लाख 53 हजार हेक्टेयर में सोयाबीन बोई गई है जबकि गत वर्ष अब तक 118 लाख 38 हजार हेक्टेयर में सोयाबीन बोई गई थी। जबकि देश में कुल खरीफ बोनी 1064 लाख हेक्टेयर में हुई है जो गत वर्ष इस समय तक 1083 लाख हेक्टेयर थी।

देश में सोयाबीन का सामान्य क्षेत्र 112 लाख 88 हजार हेक्टेयर है। सोयाबीन प्रोसेसर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सोपा) के मुताबिक 28 अगस्त की स्थिति में 123.53 लाख हेक्टेयर में सोयाबीन की बोनी कर ली गई है जबकि गत वर्ष इस समय तक 118.38 लाख हेक्टेयर में बोनी हुई थी। सोपा के मुताबिक म.प्र. में गत वर्ष की तुलना में लगभग 3 लाख हेक्टेयर क्षेत्र की कमी आयी है। म.प्र. में गत वर्ष अब तक 58.54 लाख हेक्टेयर क्षेत्र कवर किया गया था परन्तु इस वर्ष 55.84 लाख हेक्टेयर क्षेत्र कवर हुआ है। वहीं राजस्थान में अब तक 10.62 लाख हेक्टेयर में सोयाबीन बोई गई है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 11 लाख हेक्टेयर में बोनी हो गई थी।

महाराष्ट्र में 5 लाख हेक्टेयर बढ़ा

सोपा के मुताबिक कोरोना के विकट संकट के बावजूद महाराष्ट्र में सोयाबीन का रकबा लगभग 5 लाख हेक्टेयर बढ़ा है। इस वर्ष 45.87 लाख हेक्टेयर में फसल ली गई है जबकि गत वर्ष इस समय तक 40.39 लाख हेक्टेयर में बोनी हुई थी। दक्षिणी प्रदेश तेलंगाना में सोयाबीन बुवाई गत वर्ष की तुलना में दोगुनी हुई है। इसी प्रकार कर्नाटक, गुजरात जैसे राज्यों में सोयाबीन का रकबा बढ़ा है, परन्तु छत्तीसगढ़ में कुछ कमी आयी है।

सूत्रों के मुताबिक इस वर्ष सोया राज्य म.प्र. में मौसम की असामान्य स्थिति, सोयाबीन बीज का संकट एवं विगत तीन-चार वर्षों से फसल खराब होने के कारण रकबे में कमी आयी है। किसानों का मोहभंग हो रहा है, म.प्र. सरकार भी मान रही है कि सोयाबीन घाटे की खेती बनती जा रही है। देश के अन्य प्रमुख सोया उत्पादक राज्यों में सोयाबीन का विस्तार हो रहा है। इस वर्ष महाराष्ट्र के सभी संभागों में गत वर्ष की तुलना में सोयाबीन का रकबा बढ़ा है परन्तु म.प्र., छत्तीसगढ़ एवं राजस्थान के संभागों में सोयाबीन की कम क्षेत्र में बुवाई हुई है।

देश के प्रमुख सोयाबीन राज्यों में बुवाई स्थिति

इकाई : लाख हेक्टेयर में  (28 अगस्त तक)

राज्य  2020 2021
मध्यप्रदेश  58.54 55.84
महाराष्ट्र  40.39 45.87
राजस्थान  11 10.62
तेलंगाना  1.59 3.48
कर्नाटक  3.32 3.82
छत्तीसगढ़  0.77 0.51
गुजरात  1.49 2.23
अन्य राज्य  1.25 1.12
कुल  118.38 123.53
Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.