राज्य कृषि समाचार (State News)

शाजापुर जिले में मत्स्य समूहों को सहकारी समिति के रूप में पंजीकृत कराने का प्रस्ताव

Share

25 जून 2024, शाजापुर: शाजापुर जिले में मत्स्य समूहों को सहकारी समिति के रूप में पंजीकृत कराने का प्रस्ताव – शाजापुर कलेक्टर सुश्री ऋजु बाफना की अध्यक्षता में  गत दिनों  जिला स्तरीय सहकारी विकास समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक के संयोजक उप आयुक्त सहकारिता श्री ओ.पी. गुप्ता ने भारत शासन के निर्देश अनुसार  बिंदुओं पर पीपीटी के माध्यम से विस्तृत प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

बैठक में कलेक्टर सुश्री बाफना ने सहायक संचालक मत्स्य को जिले में कार्यरत समूहों को सहकारी समिति के रूप में पंजीकृत कराने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये। साथ ही कलेक्टर ने जिले की 91 पैक्स  संस्थाओं के ऑपरेटर को कॉमन सर्विस सेंटर के द्वारा किये जाने वाले ऑनलाइन  कार्यों के संबंध में प्रशिक्षण देने के लिए कहा। उपायुक्त सहकारिता ने बताया कि जिले की 78 पैक्स संस्थाओं में प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केन्द्र स्थापित किये गये  हैं , जिनमें इफको, कृभको, एनएफल द्वारा टीवी रेक, फेसिया गेट, कुर्सी, टेबल, रेक चार्ट शोकेस उपलब्ध कराये गये  हैं , शेष संस्थाओ में सामग्री उपलब्ध कराये जाने के लिए फर्टिलाईजर कंपनियों से सम्पर्क किया जा रहा है। जिले की शाजापुर नागरिक सहकारी बैंक तथा राजराजेश्वरी महिला नागरिक सहकारी बैंक द्वारा आधार इनेबल पेमेंट सर्विस प्रदाय करने के लिए एनपीसीआई की सदस्यता लेने के निर्देश कलेक्टर ने दिये।

बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्री संतोष टैगोर, उप संचालक पशुपालन एवं डेयरी विभाग श्री डॉ. एस.के. श्रीवास्तव, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक श्री विशेष श्रीवास्तव, कृषि विभाग से सहायक संचालक श्री राजेशसिंह चौहान, मत्स्योद्योग विभाग से निरीक्षक श्री किशोर महाजन, भोपाल दुग्ध संघ प्रतिनिधि श्री नितेश अलावा, उज्जैन दुग्ध संघ प्रतिनिधि श्री रामसिंह देवड़ा इफको प्रतिनिधि श्री महेन्द्रकुमार पटेल, कृभको प्रतिनिधि श्री राहुल कुमार पाटीदार, प्रबंधक शाजापुर नागरिक सहकारी बैंक श्री दीपक विभुते, विवेकानन्द नागरिक सहकारी बैंक से श्री मनोज विजयवर्गीय तथा प्रबंधक राजराजेश्वरी महिला नागरिक सहकारी बैंक श्री गोविंदसिंह गौतम उपस्थित थे।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

कृषक जगत ई-पेपर पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.krishakjagat.org/kj_epaper/

कृषक जगत की अंग्रेजी वेबसाइट पर जाने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.en.krishakjagat.org

Share
Advertisements