सोयाबीन एवं उद्यमिता विकास पर कार्यक्रम आयोजित

Share

26 नवंबर 2021, इंदौर । सोयाबीन एवं उद्यमिता विकास पर कार्यक्रम आयोजित – भा.कृ.अनु.प.-भारतीय सोयाबीन अनुसंधान संस्थान, इंदौर द्वारा अमृत महोत्सव के अंतर्गत आज सनशाईन स्कूल, खंडवा रोड, इंदौर में सोयाबीन एवं उद्यमिता विकास  विषय पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें संस्थान द्वारा स्थापित एग्री बिजनेस इन्कुबेशन केंद्र के बारे में जानकारी दी गई और सक्षम बेरोजगार युवाओं से सोयाबीन के क्षेत्र में उद्यमिता के अवसरों का दोहन करने का आह्वान किया गया।

फसल उत्पादन विभाग के अध्यक्ष डॉ. बी.यू. दुपारे ने  संविधान दिवस के उपलक्ष में संविधान की उद्देश्यिका का वाचन कर सोयाबीन उद्योग की संभावनाएं तथा सोयाबीन आधारित खाद्य पदार्थों से प्राप्त होने वाले स्वास्थ्य लाभ की जानकारी देते हुए कहा कि सोया-राज्य मध्य प्रदेश में विगत 40 वर्षो से सोयाबीन की व्यावसायिक खेती सफलतापूर्वक किये जाने के बावजूद सोयाबीन के खाद्य पदार्थों का प्रचलन नहीं हैं, जबकि सोयाबीन एक परिपूर्ण पौष्टिक फसल है,जिसमें मानव शरीर के लिए आवश्यक सभी तत्व जैसे प्रोटीन, विटामिन, लौह  कैल्शियम  के साथ -साथ अनेक औषधीय गुण हैं जिनको वर्तमान में आ रही कई बीमारियों  को दूर रखने में सहायता हो सकती है।  डॉ दुपारे ने सक्षम बेरोजगार युवाओं से आह्वान  किया कि वे रोज़गार तलाशने के बजाय अब सोयाबीन के क्षेत्र में उद्यमिता के अवसरों की अपार संभावनाओं  का दोहन कर अन्य युवाओं को रोज़गार प्रदान करने में सहयोग करें।
 
इसी कड़ी में यहाँ के स्कूली छात्रों के लिए आयोजित पोस्टर प्रतियोगिता के विजेता  कुमारी ख़ुशी बिडवान, दीपेश चौहान एवं नितिन चौहान कोप्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।  इस अवसर पर स्कूल  की संचालक सुश्री अंजना कुशवाह तथा उप-प्राचार्य श्री अभिषेक मंडलोई ने भारतीय सोयाबीन अनुसन्धान संस्थान द्वारा सोयाबीन के क्षेत्र में किये जा रहे अनुसन्धान एवं विकास कार्यक्रमों की खूब प्रशंसा की ।  कार्यक्रम का संचालन श्री श्याम किशोर वर्मा, सहायक मुख्य तकनीकी अधिकारी ने किया और धन्यवाद  ज्ञापन श्री रामेन्द्र नाथ श्रीवास्तव, मुख्य तकनीकी अधिकारी द्वारा किया गया।    

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.