राज्य कृषि समाचार (State News)

हरियाणा में धान की सुगम खरीद के लिए प्रशासनिक सचिवों को सौंपा जिलों का जिम्मा

Share

जिला ईंचार्ज करेंगे खरीद तैयारियों की निगरानी

30 सितम्बर 2022, चंडीगढ़: हरियाणा में धान की सुगम खरीद के लिए प्रशासनिक सचिवों को सौंपा जिलों का जिम्मा – हरियाणा सरकार ने खरीफ विपणन सत्र 2022-23 के दौरान धान की निर्बाध और सुचारू खरीद संचालन के लिए प्रशासनिक सचिवों को जिला ईंचार्ज के रूप में तैनात किया है। ये अधिकारी व्यक्तिगत रूप से उन्हें अलॉट किए गए जिलों में ‌मंडियों का दौरा कर वहां सभी तैयारियों पर निगरानी रखेंगे और समन्वय स्थानपित कर ‌खरीद से संबंधित सभी कार्यों पर पूर्ण नियंत्रण सुनिश्चित करेंगे।  

मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने इस संबंध में पत्र जारी कर अधिकारियों को ‌मंडियों का दौरा करने के निर्देश दिए हैं। जारी पत्र के अनुसार श्री वीरेंद्र सिंह कुंडू को जिला ईंचार्ज के रूप में रेवाड़ी जिला सौंपा गया है। श्री एस एन रॉय को हिसार जिला, डॉ. महावीर सिंह को झज्जर जिला, श्री सुधीर राजपाल को पलवल जिला, डॉ. सुमिता मिश्रा को अंबाला जिला, श्री अंकुर गुप्ता को सोनीपत जिला, श्री अनुराग रस्तोगी को गुरुग्राम जिला, श्री आर एस वुंडरू को महेंद्रगढ़ जिला, श्री आनंद मोहन शरण को पंचकूला जिला और डॉ. अशोक खेमका को नूहं जिला सौंपा गया है।  

इसी प्रकार, श्री विनीत गर्ग को फतेहाबाद जिला, श्री अनिल ‌मलिक को फरीदाबाद जिला, श्रीमती जी. अनुपमा को कुरुक्षेत्र जिला, श्री ए के सिंह को पानीपत जिला, श्री अरूण कुमार गुप्ता को यमुनानगर जिला, श्री विजेंद्र कुमार को सिरसा जिला, श्री डी सुरेश को चरखी दादरी जिला, श्री राजीव रंजन को करनाल जिला, श्री पंकज अग्रवाल को भिवानी जिला, श्री पंकज यादव को कैथल जिला, ‌श्री विकास गुप्ता को रोहतक जिला तथा श्री विजय सिंह दहिया को जींद जिला सौंपा गया है।

ये जिला ईंचार्ज धान की खरीद एमएसपी पर हो रही है या नहीं, इसकी निगरानी रखेंगे। मंडियों में धान के लिए पर्याप्त जगह सुनिश्चित करने हेतू खरीफ विपणन सत्र 2022-23 से पहले गत वर्ष के गेहूं का उठान भी सुनिश्चित करेंगे। मार्केट कमेटी और राज्य खरीद एजेंसियों के पास मॉइस्चर मीटर की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी।

महत्वपूर्ण खबर: पीएम-किसान की 12वीं किस्त 17 अक्टूबर को किसानों के खाते में जमा होगी

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *