किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान पर मिलेंगे बाँस के उन्नत पौधे

Share

किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान पर मिलेंगे बाँस के उन्नत पौधे

23 जुलाई 2020, भोपाल। किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान पर मिलेंगे बाँस के उन्नत पौधे राष्ट्रीय बाँस मिशन के तहत प्रदेश के किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान पर उन्नत गुणवत्ता वाले बाँस के पौधे उपलब्ध कराये जा रहे हैं। प्रति पौधा 240 रूपये लागत वाला यह पौधा किसानों को 120 रूपये में मिलेगा। राशि अनुदान का वितरण तीन वर्षो तक किया जायेगा। पहले साल में 60 रूपये प्रति पौधा, दूसरे में 36 रूपये और तीसरे साल में किसानों को 24 रूपये प्रति पौधा अनुदान मिलेगा। पहले वर्ष में रोपित सभी पौधों पर अनुदान दिया जायेगा। दूसरे साल 80 प्रतिशत पौधों की जीवितता पर (मृत पौधा बदलाव सहित) और तीसरे साल शत-प्रतिशत पौधों की जीवितता (मृत पौधा बदलाव सहित) सुनिश्चित करने पर अनुदान दिया जायेगा।

किसान अपनी कृषि भूमि, मेड़ आदि पर अपनी इच्छा अनुसार बाँस की प्रजातियाँ लगाने के लिये स्वतंत्र रहेंगे। लेकिन किसानों को यह पौधे मध्यप्रदेश राज्य बाँस मिशन की मान्यता प्राप्त रोपणियों या भारत सरकार के बायोटेक्नोलोजी विभाग से एन.सी.एस.-टी.सी.पी. प्रमाण पत्र प्राप्त टिश्यू कल्चर प्रयोगशालाओं से खरीदना होंगे। पौधा क्रय का भुगतान किसान द्वारा रोपणी/लेब को किया जायेगा।

बांस मिशन को कृषि विभाग में लाने की जरूरत : कृषि मंत्री

प्रदेश के कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने बांस मिशन को वन विभाग के वजाय कृषि विभाग के अधीन लाने की जरूरत पर जोर दिया है। उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह को लिखे पत्र में कहा है कि किसानों को उनकी आय दोगुनी करने में बांस मिशन सहायक होगा।

निजी नर्सरियों में महंगा पौधा

श्री पटेल ने कहा कि शासकीय नर्सरी में पर्याप्त पौधा उपलब्ध नहीं है। जबकि शासकीय और निजी नर्सरियों में पौधों की कीमत में बड़ा अंतर है। शासकीय नर्सरी में पौधे 10 से 15 रु. में उपलब्ध हैं जबकि निजी नर्सरी में यही पौधा 35 से 40 रु. में दिया जा रहा है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.