किसानों को प्राकृतिक और लाभ की खेती के लिये प्रोत्साहित किया जायेगा

Share
कृषि तकनीकी प्रबंध संस्था (आत्मा) की बैठक सम्पन्न

5 अगस्त 2022, इंदौर: किसानों को प्राकृतिक और लाभ की खेती के लिये प्रोत्साहित किया जायेगा – इंदौर जिले में किसानों को प्राकृतिक खेती के साथ ही लाभ की खेती के लिये भी प्रोत्साहित किया जायेगा। किसानों को अश्वगंधा, मूसली, अकरकरा, कुसुम आदि के साथ ही मधुमक्खी पालन के लिये भी बढ़ावा दिया जायेगा।यह जानकारी आज यहां कलेक्टर श्री मनीष सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई कृषि तकनीकी प्रबंध संस्था (आत्मा) की गवर्निंग बॉडी की बैठक में दी गई।

बैठक में कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी और उन्नत किसान तथा गवर्निंग बॉडी के सदस्य मौजूद थे। बैठक में कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने कृषि को लाभ का व्यवसाय बनाने के लिये किये जा रहे नवाचारों की जानकारी ली। उन्होंने नवाचार के रूप में अकरकरा तथा अश्वगंधा की खेती करने वाले किसानों से चर्चा भी की। उन्होंने कहा कि आज जरूरत है कि ऐसे किसानों को प्रोत्साहित किया जाये, जो लाभप्रद खेती कर रहे हैं। साथ ही जिले के अन्य किसानों को भी प्रेरित किया जाये कि वे अश्वगंधा, मुसली, अकरकरा तथा कुसुम की खेती करें।

कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने निर्देश दिये कि जिले में ड्रेगन फ्रूट की खेती के लिये भी किसानों को प्रोत्साहित किया जाये। उन्होंने किसानों से संबंधित शासकीय योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के भी निर्देश दिये। इन योजनाओं के तहत ऐसे किसानों को चिन्हित किया जाये, जो कि वास्तविक रूप से योजना का लाभ प्राप्त कर परिणाम देने के इच्छुक हैं। उन्होंने विभिन्न शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन की प्रगति की समीक्षा भी की। उन्होंने निर्देश दिये कि किसानों को शासकीय योजनाओं का लाभ समय पर देना सुनिश्चित किया जाये। योजना क्रियान्वयन में लापरवाही करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने स्वाइल हेल्थ कार्ड बनाने के कार्य |

महत्वपूर्ण खबर:दूधिया मशरूम से बढ़ेगी किसानों की आमदनी

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.