राज्य कृषि समाचार (State News)

किसान फूल और मसाले के क्षेत्र विस्तार पर विशेष ध्यान दें – श्री मिश्रा

Share

रीवा में एपीसी ने ली संभागीय समीक्षा बैठक

17 मई 2024, रीवा: किसान फूल और मसाले के क्षेत्र विस्तार पर विशेष ध्यान दें – श्री मिश्रा – रबी 2023-24 की समीक्षा एवं खरीफ 2024 के कार्यक्रम निर्धारण के लिए रीवा में  आयोजित संभागीय समीक्षा बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त श्री एसएन मिश्रा ने कहा कि रीवा संभाग में फल और सब्जी उत्पादन में बहुत अच्छा कार्य हुआ है। संभाग प्रदेश में सब्जी उत्पादन में दूसरे तथा फल उत्पादन में तीसरे स्थान पर है। अनाज के बाद फल-सब्जी उत्पादन किसानों को सर्वाधिक आय और रोजगार के अवसर दे रहा है। फल और सब्जी के साथ-साथ फूल और मसाले के क्षेत्र विस्तार पर विशेष ध्यान दें। इनसे कम लागत में अच्छा लाभ प्राप्त होता है। सीधी जिले में मछली पालन के लिए केज का सफलतापूर्वक उपयोग किया जा रहा है। संभाग के अन्य जिलों में भी केज के माध्यम से मछली पालन कराएं। कलेक्टर खेती और इससे जुड़े अन्य व्यवसायों के विकास के लिए दीर्घकालीन योजनाएं बनाएं। उद्यानिकी से जुड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन की नियमित समीक्षा करें। उद्यानिकी फसलों के क्षेत्र विस्तार के लिए बड़े अभियान की आवश्यकता है। कलेक्टर किसी एक या दो फसल का चयन करके उनसे अधिक से अधिक किसानों को जोड़ने का प्रयास करें। फल-सब्जी और मसालों की मार्केटिंग के लिए भी किसानों को उचित सुविधा उपलब्ध कराएं।

कृषि उत्पादन आयुक्त ने कहा कि संभाग में मछली पालन की अपार संभावना है। सभी बारहमासी जलाशयों में मछली पालन अनिवार्य रूप से कराएं। बड़े सिंचाई बांधों में भी अच्छी मात्रा में मछली का उत्पादन हो सकता है। संभाग में दुधारू पशुओं की संख्या पर्याप्त है। इनके नस्ल सुधार के लिए अभियान चलाएं। दूध उत्पादन तथा संकलन बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास करें। नए मिल्क रूट का निर्माण कर दुग्ध सहकारी समितियाँ गठित कराएं। सहकारी समितियों का लंबित भुगतान तत्काल कराएं।

श्री मिश्रा ने कहा कि दुग्ध संघ के सांची ब्रांड के उत्पादों की बिक्री के लिए सभी जिलों में प्रमुख सार्वजनिक स्थलों पर साँची पार्लर स्थापित कराएं। कलेक्टर कृषि , उद्यानिकी, पशुपालन, मछलीपालन तथा दुग्ध संघ की विभागीय गतिविधियों की नियमित समीक्षा करें। बैठक में कलेक्टर रीवा श्रीमती प्रतिभा पाल ने गौशालाओं के सफल संचालन के लिए एक चौकीदार की व्यवस्था करने तथा जिले से प्रस्तावित तीन गौ अभ्यारण्य की स्वीकृति का अनुरोध किया। बैठक में प्रमुख सचिव सहकारिता श्रीमती दीपाली रस्तोगी, कमिश्नर रीवा संभाग गोपाल चन्द्र डाड, संचालक उद्यानिकी एसबी सिंह, संचालक दुग्ध संघ एस सतीश कुमार संभाग के सभी जिलों के कलेक्टर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

To view e-paper online click below link: https://www.krishakjagat.org/kj_epaper/Detail.php?Issue_no=36&Edition=mp&IssueDate=2024-05-06

To visit Hindi website click below link:

www.krishakjagat.org

To visit English website click below link:

www.en.krishakjagat.org

Share
Advertisements