राज्य कृषि समाचार (State News)

इंदौर में धनेशा क्रॉप साइंस की डिस्ट्रीब्यूटर मीट संपन्न

Share

25 मई 2024, इंदौर: इंदौर में धनेशा क्रॉप साइंस की डिस्ट्रीब्यूटर मीट संपन्न – उभरती कृषि आदान कम्पनी धनेशा क्रॉप साइंस प्रा लि द्वारा  गत दिनों इंदौर में  एक डिस्ट्रीब्यूटर मीट का आयोजन किया गया। जिसमें कंपनी के प्रबंध निदेशक  श्री धर्मेश गुप्ता , बिजनेस हेड(सेन्ट्रल ज़ोन ) श्री एस. एस. जावला, क्षेत्रीय प्रबंधक (मप्र ) श्री राधेश्याम यादव सहित बड़ी संख्या में डिस्ट्रीब्यूटर उपस्थित थे। इस दौरान कम्पनी द्वारा नए अत्याधुनिक उत्पादों का अनावरण भी किया गया।

 श्री  गुप्ता ने प्रतिभागियों को कंपनी के इतिहास, उपस्थिति, भविष्य के दृष्टिकोण पर अपने विचार व्यक्त कर बहुमूल्य सुझाव साझा किए। उन्होंने नवीन प्रौद्योगिकियों के प्रभावी उपयोग से किसानों में समृद्धि लाने के लिए कंपनी की दृढ़ प्रतिबद्धता को दोहराया। इस आयोजन के दौरान धनेशा और बाल्केम के बीच एक रणनीतिक गठबंधन की महत्वपूर्ण घोषणा की गई , जो एक प्रसिद्ध यूएस-आधारित कंपनी है ,जो कृषि जैव प्रौद्योगिकी में विशेषज्ञता के साथ दुनिया की स्वास्थ्य और पोषण संबंधी जरूरतों के लिए अपनी तकनीक और अभिनव समाधानों के लिए जानी जाती है।

श्री संजीव जैन ने संयुक्त राज्य अमेरिका से  बाल्केम का प्रतिनिधित्व करते हुए कहा कि यह दोनों कंपनियों के साझा दृष्टिकोण का उदाहरण है। इसे उन्होंने अभिनव समाधानों के साथ किसानों को सशक्त बनाने और स्थायी कृषि प्रथाओं को सुनिश्चित करने की उनकी यात्रा में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर चिह्नित किया और गठबंधन कृषि समृद्धि के एक नए युग की शुरुआत बताया , जिससे दोनों संस्थाओं की संयुक्त ताकत का लाभ किसान उठाएगा।

इस कार्यक्रम में कम्पनी ने अपने नए और उन्नत अत्याधुनिक उत्पादों  कीटनाशक थोर्न और बाघ , फफूंदीनाशक डेमसल , फ़र्टिलाइज़र ज़िंक ईडीटीए और ब्लूम स्पार्क और फ्रूट स्पार्क को पेश किया, जो फसलों को कीट संक्रमण, बीमारी, खरपतवार से बचाने और फसल की पैदावार बढ़ाने के लिए डिज़ाइन किए गए है। धनेशा अब अपने व्यापक पोर्टफोलियो के साथ किसानों को जैव-कीटनाशकों और पोषण-आधारित उत्पादों का सर्वांगीण फसल समाधान प्रदान करते हैं। आरम्भ में श्री यादव ने सभी प्रतिभागी एवम व्यापारिक भागीदारों का स्वागत किया।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

Share
Advertisements