उर्वरकों के असंतुलित प्रयोग से मिट्टी की सेहत पर संकट

Share

कृषक संगोष्ठी एवं प्रदर्शनी का आयोजन

1 फरवरी 2021,रायसेन, उर्वरकों के असंतुलित प्रयोग से मिट्टी की सेहत पर संकट– किसान कल्याण कृषि विकास तथा विभाग, रायसेन स्वॉइल हैल्थ कार्ड योजना में कृषक संगोष्ठी व प्रदर्शनी का आयोजन कृषि विज्ञान केन्द्र, रायसेन में किया गया।  इस कार्यक्रम में श्री एल.के. खरे, एस.डी.एम., रायसेन श्री एन.पी. सुमन, उपसंचालक कृषि, रायसेन, श्री एस.के. दोहरे, सहायक संचालक कृषि, डॉ. राजीव श्रीवास्तव, सहायक संचालक मत्स्य, श्री डी.एस. कोठारी, सहायक कृषि यंत्री, श्री जी.एस. रैकवार, एस.डी.ओ., रायसेन, श्री ए.के. शुक्ला, वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी, सांची व वरिष्ठ वैज्ञानिक व प्रमुख डॉ. स्वप्निल दुबे प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

उपसंचालक कृषि श्री एन.पी. सुमन ने कहा कि लगातार असंतुलित मात्रा में रसायनिक उर्वरक व कीटनाशकों के प्रयोग से मृदा का स्वास्थ्य प्रभावित हो रहा है। वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. स्वप्निल दुबे द्वारा खाद्यान्न फसलों की खेती के साथ-साथ अधिक मूल्य वाली फसलें पपीता, स्ट्रॉबेरी, एप्पल बेर, तरबूज, धनिया आदि फसलों से सम्बन्धित जानकारी दी गई। साथ ही गेहूं की नवीनतम प्रजाति जी.डब्ल्यू.-451, जी.डब्ल्यू.-499, एच.आई.-1634, करण वन्दना आदि किस्मों की जानकारी दी गई।

कार्यक्रम का संचालन व आभार प्रदर्शन श्री सुरेश कुमार परमार, आत्मा परियोजना द्वारा किया गया। कार्यक्रम में केन्द्र के वैज्ञानिक श्री प्रदीप कुमार द्विवेदी, डॉ. मुकुल कुमार, श्री आलोक सूर्यवंशी, श्री पंकज भार्गव, श्री सुनील केथवास उपस्थित थे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.