सहकारिता मंत्री ने अटेर क्षेत्र में 3 करोड़ 74 लाख से अधिक लागत के कई निर्माण कार्यों का किया लोकार्पण,भूमिपूजन

Share

21 जनवरी 2022, भिण्ड ।  सहकारिता मंत्री ने अटेर क्षेत्र में 3 करोड़ 74 लाख से अधिक लागत के कई निर्माण कार्यों का किया लोकार्पण, भूमिपूजन – सहकारिता एवं लोकसेवा प्रबंधन विभाग मंत्री डॉ अरविन्द सिंह भदौरिया आज अटेर क्षेत्र के भ्रमण पर रहे जहाँ उनके द्वारा ग्राम पंचायत रिदौली, परा, कदौरा एवं खरिका में 3 करोड़ 74 लाख से अधिक लागत के कई निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया गया। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ श्री जेके जैन, एसडीएम अटेर श्री उदयसिंह सिकरवार सहित अन्य अधिकारी, जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। सहकारिता एवं लोकसेवा प्रबंधन विभाग मंत्री डॉ अरविन्द सिंह भदौरिया ग्राम पंचायत रिदौली में 36 लाख 85 हजार की लागत के दो निर्माण कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया। जिसमें 24 लाख की लागत से निर्मित होने वाली एक सुदूर सम्पर्क सड़क का भूमिपूजन एवं 12 लाख 85 हजार की लागत से निर्मित पंचायत भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने परा में 2 करोड़ 93 लाख 92 हजार की लागत के 5 निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। जिसमें 2 करोड़ 73 लाख की लागत की परा-बोरेश्वर मार्ग लोकार्पण के साथ 20 लाख से अधिक के चार अन्य निर्माण जिसमें बाउंड्री वॉल निर्माण, नाला निर्माण, सामुदायिक स्वच्छता परिसर निर्माण एवं सीसी रोड निर्माण कार्यों का लोकार्पण भी किया। उन्होंने ग्राम पंचायत कदौरा में 23 लाख 23 हजार की लागत के तीन निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। जिसमें 12 लाख की लागत से निर्मित सुदूर सम्पर्क सड़क, 7 लाख 80 हजार की लागत से निर्मित आंगनवाड़ी भवन एवं 3 लाख 43 हजार की लागत से निर्मित सामुदायिक स्वच्छता परिसर का लोकार्पण किया गया।

इसी के साथ उनके द्वारा ग्राम पंचायत निवारी (खरिका) में 20 लाख 49 हजार की लागत के 3 निर्माण कार्यों लोकार्पण भी किया गया। जिसमें 8 लाख की लागत से चबूतरा निर्माण, 8 लाख की लागत से नाली निर्माण एवं 4 लाख 49 हजार की लागत निर्मित बाउंड्रीवॉल का लोकार्पण शामिल रहा। सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन विभाग मंत्री डॉ अरविन्द सिंह भदौरिया ने लोकार्पण/भूमिपूजन के अवसर पर कहा कि प्रदेश सरकार ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के विकास के लिए समान रूप से कार्य कर रही है। सभी इलाकों का सर्वांगीण विकास हो, लोगों को आधारभूत सुविधाओं की उपलब्धता हो, शुद्ध पेयजल, स्वच्छ परिवेश, आवागमन के लिए अच्छी सड़कें आदि सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा चम्बल एक्सप्रेस-वे को अटल प्रगति पथ का जो नया नाम दिया गया है उसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं। उन्होंने बताया कि अटल प्रगति पथ मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान एक्सप्रेस-वे से मिलेगा। राज्य शासन इसके आसपास इंडस्ट्रियल क्लस्टर विकसित करेगा जिससे रोजगार के नए अवसर बनेंगे।

महत्वपूर्ण खबर:  मध्यप्रदेश में ओला-पाला से 25 जिलों की फसलें प्रभावित

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.