किसानों की आय बढ़ाने वाली बलराम तालाब योजना

Share

30 अप्रैल 2022, इंदौर । किसानों की आय बढ़ाने वाली बलराम तालाब योजना – लगातार गिरते भू जल स्तर और पानी की कमी के कारण किसान अपनी फसलों की ठीक तरह से सिंचाई नहीं  कर पाते हैं । इस समस्या को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत बलराम तालाब योजना को शुरू किया गया है । बलराम तालाब के लिए वर्ष 2022 -23  के लिए ऑन लाइन आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं। इसमें आवेदकों को श्रेणी अनुसार अनुदान  दिया जाता है।

उल्लेखनीय है कि जल संरक्षण और खेती में सिंचाई सुविधाएं बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिसके तहत  सिंचाई यंत्र और अन्य संसाधन किसानों को उपलब्ध करवाए जा रहे हैं , वहीं लगातार गिरते भू जल स्तर को सुधारने के लिए और तालाबों / नहरों  का भी निर्माण किया जा रहा है क्योंकि पानी की कमी के कारण किसान अपनी फसलों की ठीक तरह से सिंचाई नहीं कर पाता, जिसके कारण  उसकी फसल खराब हो जाती है। किसानों की इस समस्या को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत बलराम तालाब योजना को शुरू किया गया है । इसमें वर्षा के अप्रवाहित जल की अधिकतम मात्रा को खेतों में रोककर उसे सिंचाई करने  योग्य बनाया जाता है।  इस योजना में  छोटे तालाब / तलाई का निर्माण किया जाता है।

मध्य प्रदेश में यह योजना  22 मई 2007 से संचालित की जा रही है। वर्ष 2022 -23  के लिए किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग , मप्र भोपाल द्वारा गत 25 अप्रैल से आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं। यह आवेदन पत्र ऑन लाइन जमा किए जाएंगे। पंजीकरण के लिए किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय, मध्य प्रदेश शासन की आधिकारिक वेबसाइट dbt.mpdage.org पर अथवा एमपी ऑन लाइन या किसी इंटरनेट कैफे से भी पूरी जानकारी देकर आवेदन किया जा सकता है। विस्तृत जानकारी के लिए जिले के सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी /कार्यालय से सम्पर्क किया जा सकता है।  इस योजना में किसान तालाबों में वर्षा के जल को संग्रहित करके समय-समय पर अपने खेतो में पानी को पहुंचा सकते हैं ।बलराम योजना के माध्यम से किसान पानी की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध होने से कृषि में अधिक उत्पादन कर अधिक मुनाफा प्राप्त कर सकते  हैं । यह योजना किसानों की आय में वृद्धि करने में मददगार साबित होगी।

श्रेणीवार अनुदान -हर वर्ग के किसानों हेतु योजना में अलग-अलग श्रेणी के अनुसार अनुदान राशि को निर्धारित किया गया है।सामान्य श्रेणी के आवेदक को अनुदान 40% अधिकतम राशि 80 हजार रूपए ,लघु एवं सीमांत किसान को अनुदान 50% अधिकतम राशि 80 हजार रूपए और अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति श्रेणी के आवेदक को अनुदान 75% अधिकतम राशि 1 लाख रूपए दिया जाएगा।  बलराम तालाब योजना के लिए कृषि विभाग द्वारा लक्ष्य के अनुसार समय-समय पर जिलेवार सूची जारी की जाती है। जो किसान पहले आवेदन करता है, उसकी पात्रता का निरीक्षण  कर उसे इस योजना का लाभ दिया जाता है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.