इंदौर जिले के 15 हजार किसानों के खातों में तीन करोड़ की राशि अंतरित

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

2 मार्च, 2021, इन्दौर l इंदौर जिले के 15 हजार किसानों के खातों में तीन करोड़ की राशि अंतरित –   गत दिनों  इंदौर में जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट के मुख्य आतिथ्य में जिला स्तरीय समारोह सम्पन्न हुआ। जिसमें मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत इंदौर जिले के 14 हजार 957 किसानों के खाते में लगभग 3 करोड़ रूपये की राशि अंतरित की गई ।

इस मौके पर जल संसाधन मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि किसान हमारे अन्नदाता है। यह विकास की सबसे बड़ी धुरी है। किसानों का सम्मान हमारा फर्ज है। देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों के सम्मान के लिये प्रतिवर्ष 6 हजार रूपये की सम्मान निधि देने की योजना शुरू की है। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने इसका विस्तार करते हुये 4 हजार रूपये और राज्य शासन की तरफ से देने का निर्णय लिया है। अब किसानों को प्रतिवर्ष दस हजार रूपये की सम्मान निधि मिलेगी। किसानों को राज्य शासन द्वारा शून्य प्रतिशत पर कृषि ऋण दिया जा रहा है। किसानों के कल्याण के लिये हम कृत संकल्पित हैं।

मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि जरुरतमंदों की सहायता एवं कल्याण के लिये सम्बल योजना पुन: शुरू की गई  । इसके अच्छे एवं सकारात्मक परिणाम मिल रहे हैं। किसानों का समग्र कल्याण तथा क्षेत्र का विकास हमारा संकल्प है। युवाओं को रोजगार देने के लिये भी कारगर प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों से समर्थन मूल्य पर गेहूं का एक-एक दाना खरीदा जायेगा। शासन ने 1975 रूपये प्रति क्विंटल की दर से गेहूं समर्थन मूल्य पर खरीदने का निर्णय लिया है। जिले में अभी तक 50 हजार किसानों का पंजीयन हो चुका है। किसानों को समय पर उनकी मांग के अनुसार खाद, बीज सहित अन्य कृषि आदान गुणवत्ता वाले प्रदाय किये जायेंगे। कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसानों को खेती की आधुनिक तकनीक की जानकारी दी गई l

श्री सिलावट ने रविदास जयंती पर संत श्री रविदासजी के चित्र पर माल्यार्पण किया। इस आयोजन में जिला पंचायत के सीईओ श्री हिमांशु चन्द्र, उप संचालक कृषि श्री एस.एस.राजपूत, इंदौर प्रीमियर कॉऑपरेटिव बैंक के सीईओ श्री एस.के.खरे सहित अन्य अधिकारी और बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।