राज्य कृषि समाचार (State News)

डॉक्टरी-इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ विद्यार्थियों को स्टार्टअप के लिए भी सहयोग– मुख्यमंत्री श्री चौहान

Share

कक्षा 12वीं में 75 प्रतिशत और उससे अधिक अंक लाने वाले 91 हजार 498 विद्यार्थियों को लेपटॉप के लिए 25-25 हजार रुपये का प्रोत्साहन

30 सितम्बर 2022, भोपाल। डॉक्टरी-इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ विद्यार्थियों को स्टार्टअप के लिए भी सहयोग– मुख्यमंत्री श्री चौहान – मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के विद्यार्थियों को डॉक्टर, इंजीनियरिंग की पढ़ाई में सहायता के साथ उनमें उद्यमिता की दक्षता निखारने और व्यापार में प्रवेश कराने के लिए सहायता की व्यवस्था की गई है। युवाओं को स्टार्टअप आरंभ करने, नवाचार करने प्रोत्साहित किया जा रहा है। विद्यार्थी अपना लक्ष्य निर्धारित करें, भ्रामित न हों, लक्ष्य प्राप्ति के लिए अनुशासित रूप से कड़ी मेहनत करते हुए रास्ता बनाएँ, सफलता अवश्य मिलेगी, राज्य सरकार आपके साथ है। मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रदेश के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के प्रोत्साहन के लिए लाल परेड ग्राउंड पर मेधावी सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में 12वीं कक्षा में प्रथम प्रयास में 75 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले वाले 91 हजार 498 विद्यार्थियों के खाते में लेपटॉप के लिए 25-25 हजार रूपये आंतरित किए। स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री इंदर सिंह परमार, भोपाल की महापौर श्रीमती मालती राय, जिला पंचायत अध्यक्ष भोपाल श्रीमती रामकुंवर गुर्जर तथा प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती अरुण शमी उपस्थित थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा प्रत्येक संभाग से प्रावीण्य सूची में सर्वोच्च अंक प्राप्त दो-दो विद्यार्थियों को प्रतीक स्वरूप चेक प्रदान किए गए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अधिक अंक अर्जित करने के लिए विद्यार्थियों, उनके माता-पिता, शिक्षकों को बधाई देते हुए कहा कि मेरी यही कामना है कि आप प्रगति के पथ पर बढ़ते रहें और महान भारत के निर्माण में अपना श्रेष्ठतम योगदान दें। शासकीय विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों ने उल्लेखनीय उपलब्धियाँ अर्जित की हैं। विद्यार्थियों को यह भाव मन में रखना होगा कि यह अभी पड़ाव है मंजिल आगे है । मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आश्वस्त किया कि लेपटॉप के लिए राशि की व्यवस्था कभी बंद नहीं होगी।

स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री इंदर सिंह परमार ने मुख्यमंत्री श्री चौहान का आभार मानते हुए कहा कि उनकी पहल से इतनी बड़ी संख्या में विद्यार्थियों को लेपटॉप उपलब्ध कराना संभव हो पाया है।

महत्वपूर्ण खबर: 10 दिवसीय बकरी पालन प्रशिक्षण का हुआ समापन

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *