म.प्र. के मुरैना, श्योपुर में 45 करोड़ से सुधरेगी 98 हजार हेक्टेयर भूमि

Share
  • (अतुल सक्सेना)

30 जुलाई 2022, भोपाल । म.प्र. के मुरैना, श्योपुर में 45 करोड़ से सुधरेगी 98 हजार हेक्टेयर भूमि  – म.प्र. के मुरैना और श्योपुर जिलों की 98 हजार हेक्टेयर भूमि पर सतत कृषि, जैव विविधता संरक्षण एवं भूमि सुधार की दिशा में कार्य करने के लिए 45 करोड़ का विशेष प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। फूड एंड एग्रीकल्चर आर्गेनाईजेशन (एफएओ) के माध्यम से ग्लोबल इन्वायरमेंट फेसलिटी (जीईएफ) के तहत तैयार यह प्रोजेक्ट ”ग्रीन एग्रीकल्चर : ट्रांसफार्मिंग इंडियन एग्रीकल्चर फॉर ग्लोबल इन्वायरमेंट बेनिफिट्स एण्ड दि कन्सर्वेशन ऑफ क्रिटिकल बायोडायवर्सिटी एण्ड फारेस्ट लैण्ड स्केप” वर्ष 2019 से प्रारंभ कर दिया गया है जो वर्ष 2026 तक चलेगा। इसके क्रियान्वयन के लिए अधिकारियों की भर्ती प्रक्रिया अगले माह अगस्त में की जाएगी।

कार्यक्षेत्र एवं विभाग

कृषि विभाग के शीर्ष पदस्थ अधिकारी ने बताया कि इसके लिए म.प्र. कृषि विभाग को नोडल एजेंसी बनाया गया है। इसके साथ ही वन, उद्यानिकी एवं ग्रामीण विकास विभाग के साथ अन्य सम्बंधित विभाग प्रोजेक्ट में काम करेंगे। प्रोजेक्ट क्षेत्र में आने वाले ब्लॉक एवं गांव में जिस विभाग के तहत काम की आवश्यकता होगी उसे सम्बंधित विभाग द्वारा कराया जाएगा।

प्रोजेक्ट अवधि

यह प्रोजेक्ट वर्ष 2019 से प्रारंभ किया जा चुका है तथा 2026 तक चलेगा। प्रोजेक्ट को शुरु हुए तीसरा वर्ष चल रहा है परन्तु कोरोना संकट के कारण अब तक कार्य प्रारंभ नहीं हुआ है। सूत्रों ने बताया कि अब प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन गति पकड़ेगा।

बजट व्यवस्था- इस प्रोजेक्ट की कुल राशि 58 लाख 52 हजार यूएस डालर रखी गई अर्थात् भारतीय रुपये में यह राशि लगभग 45 करोड़ 95 लाख रुपये होगी। बजट की पूरी व्यवस्था फूड एंड एग्रीकल्चर आर्गेनाईजेशन (एफ.ए.ओ.) नई दिल्ली करेगा।

नियुक्तियां- प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन में गति लाने के लिए अगले माह विभिन्न पदों के लिए साक्षात्कार लिया जाएगा। इसके तहत राज्य स्तर पर स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट (एसपीएमयू) में स्टेट टेक्नीकल कोऑर्डीनेटर होगा जिसका मुख्यालय भोपाल रहेगा इसके लिए साक्षात्कार 16 अगस्त 2022 को होगा। इसी प्रकार जिला स्तर पर ग्रीन लैण्डस्केप इम्पिलमेंटेशन यूनिट (जीएलआईयू) के तहत मुरैना जिले के लिए एक पद का साक्षात्कार 18 अगस्त 2022 को तथा श्योपुर जिले के लिए 10 पदों का साक्षात्कार 17 एवं 18 अगस्त 2022 को होगा। यह साक्षात्कार राज्य स्तरीय कृषि विस्तार एवं प्रशिक्षण संस्थान (सीएट) भोपाल में होंगे। अधिक जानकारी के लिए https://siaet.nic.in पर विजिट किया जा सकता है।

क्या है जीईएफ- ग्लोबल एनवायरनमेंट फैसिलिटी (GEF) एक पर्यावरण केन्द्रित वित्तीय संगठन है, जो जैव विविधता, जलवायु परिवर्तन, भूमि क्षरण, ओजोन परत, खाद्य सुरक्षा से सम्बंधित परियोजनाओं के लिए अनुदान देता है।

महत्वपूर्ण खबर:सोयाबीन मंडी रेट (30 जुलाई 2022 के अनुसार)

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.