50 वर्षों में सोयाबीन की खेती 1.30 करोड़ हेक्टेयर में फैली

Share

22 जुलाई 2021, नई दिल्ली । 50 वर्षों में सोयाबीन की खेती 1.30 करोड़ हेक्टेयर में फैली – सोयाबीन का रकबा 1970-71 के दौरान 3 हजार हेक्टेयर था जो वर्ष 2020-21 में बढ़कर  देश भर में 12.81 मिलियन हेक्टेयर अनुमानित है। सोयाबीन का उत्पादन भी वर्ष 1970-71 में 0.01 मिलियन टन से बढ़कर 2020-21 में 13.41 मिलियन टन हो गया है।

अहमदाबाद से भाजपा सांसद श्री हंसमुखभाई एस. पटेल के प्रश्न के जवाब में केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने लोकसभा में जानकारी दी कि भारत सरकार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (तिलहन) के माध्यम से सोयाबीन सहित तिलहन के उत्पादन और उत्पादकता को बढ़ावा दे रही है। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद-भारतीय सोयाबीन अनुसंधान संस्थान, इंदौर भी विशेष, कम अवधि, उच्च उपज देने वाली किस्मों का विकास करने के लिए केन्द्र/राज्य कृषि विश्वविद्यालयों के सहयोग से अखिल भारतीय समन्वित अनुसंधान परियोजना (एआईसीआरपी) कार्यान्वित कर रहा है। सोयाबीन की लगभग 140 उच्च उपज देने वाली किस्में जारी की गई हैं।

सोयाबीन का दशकवार क्षेत्रफल, उत्पादन और उत्पादकता

वर्ष                       क्षेत्र                    उत्पादन        उपज

                (मिलियन हे.)         (मिलियन टन)    (किग्रा/हेक्टे.)

1970-71                0.03                        0.01        426

1980-81                0.61                       0.44        728

1990-91                2.56                       2.60        1015

2000-01                6.42                        5.28        823

2010-11                9.60                        12.74     1327

2020-21                12.81                     13.41     1047

स्रोत : आर्थिक एवं सांख्यिकी निदेशालय, डीएसी एंड एफडब्ल्यू

*तृतीय अग्रिम अनुमान

 

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.