मध्य प्रदेश में सितंबर की शुरुआत से प्याज का भाव सबसे कम 

Share

09 सितम्बर 2022, नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में सितंबर की शुरुआत से प्याज का भाव  सबसे कम – प्याज किसानों को इन दिनों थोक मंडी  में कम कीमतों की चुनौती का सामना करना पड़ रहा है। पिछले दो वर्षों से प्याज किसानों को अपनी खेती की लागत को पूरा करने के लिए पर्याप्त भाव भी नहीं मिल पा रहा  है। कम आवक के साथ भी कीमतें दो साल में सबसे कम हैं। आवक की मात्रा बढ़ी तो किसानों को प्याज 1-2 रुपये किलो भी  बेचने की मजबूरी हो जाएगी। इससे उनका परिवहन खर्च भी नहीं निकलेगा  और अंततः किसान को अपनी उपज फेंकने के लिए विवश होना पड़ेगा।

एगमार्क के अनुसार मध्य प्रदेश में प्याज का थोक भाव सितंबर माह के पहले 7 दिनों तक औसत 643.54 रुपये प्रति क्विंटल रहा। यह पिछले हफ्ते के भाव (695.51 रुपये प्रति क्विंटल) से 18 फीसदी कम और पिछले साल सितंबर के पहले हफ्ते के भाव (1024.94 रुपये प्रति क्विंटल) से 37 फीसदी कम है।

रिटेल उपभोक्ता बाजार से प्याज औसत 25-30 रुपए किलो के भाव से खरीद रहे हैं। यह करीब 15 से 18 रुपये का अंतर है जिस पर व्यापारी इसे भारी मार्जिन के साथ आगे बेच रहे हैं।

महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक जैसे प्रमुख राज्यों में जहां प्याज का रकबा अधिक है, वहां के किसान बेहद कम थोक दरों का सामना कर रहे हैं। यह लगभग अगले 30 दिनों तक जारी रहेगा जब तक आवक कम नहीं होती।

महत्वपूर्ण खबर: 5 सितंबर इंदौर मंडी भाव, प्याज में एक बार फिर आया उछाल 

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.