एफएसएसएआई ने बासमती चावल के लिए व्यापक मानक तय किए; 1 अगस्त 2023 से लागू होंगे

Share

17 जनवरी 2023, नई दिल्ली: एफएसएसएआई ने बासमती चावल के लिए व्यापक मानक तय किए; 1 अगस्त 2023 से लागू होंगे – बासमती चावल हिमालय की तलहटी में खेती की जाने वाली चावल की एक प्रीमियम किस्म है और यह अपने लंबे दाने के आकार, बनावट और अद्वितीय सुगंध और स्वाद के लिए सार्वभौमिक रूप से जाना जाता है। विशिष्ट भौगोलिक क्षेत्रों की कृषि-जलवायु परिस्थितियाँ जहाँ बासमती चावल उगाए जाते हैं; साथ ही चावल की कटाई, प्रसंस्करण बासमती चावल की विशिष्टता में योगदान करती है। अपनी अनूठी गुणवत्ता, विशेषताओं के कारण, बासमती चावल की घरेलू और विश्व स्तर पर व्यापक रूप से खपत होने  वाली किस्म है और भारत की  इसकी वैश्विक आपूर्ति में  दो-तिहाई भागीदारी  है।

प्रीमियम गुणवत्ता वाला चावल होने और गैर-बासमती किस्मों की तुलना में अधिक कीमत प्राप्त करने के कारण, बासमती चावल आर्थिक लाभ के लिए विभिन्न प्रकार की मिलावट का शिकार होता है जिसमें चावल की अन्य गैर-बासमती किस्मों की  अघोषित मिलावट  हो सकती ।इसलिए, घरेलू और निर्यात बाजारों में मानकीकृत वास्तविक बासमती चावल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए, FSSAI ने बासमती चावल के लिए नियामक मानकों को अधिसूचित किया है।

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FSSAI) ने बासमती चावल (ब्राउन बासमती चावल, मिल्ड बासमती चावल, उसना भूरा बासमती चावल, और मिल्ड उसना बासमती चावल सहित) के लिए पहचान मानकों को निर्दिष्ट किया है। यह भारत के राजपत्र में अधिसूचित खाद्य सुरक्षा और मानक (खाद्य उत्पाद मानक और खाद्य योजक) प्रथम संशोधन विनियम, 2023 के माध्यम से किया गया है।

इन मानकों के अनुसार, बासमती चावल में बासमती चावल की प्राकृतिक सुगंध विशेषता होनी चाहिए और कृत्रिम रंग, पॉलिशिंग एजेंटों और कृत्रिम सुगंधों से मुक्त होना चाहिए।ये मानक बासमती चावल के लिए विभिन्न पहचान और गुणवत्ता मापदंडों को भी तय  करते हैं जैसे कि अनाज का औसत आकार और पकाने के बाद उनका बढ़ाव अनुपात; नमी की अधिकतम सीमा, यूरिक एसिड, दोषपूर्ण/क्षतिग्रस्त अनाज, और अन्य गैर-बासमती चावल आदि की आकस्मिक उपस्थिति।ये मानक 1 अगस्त 2023 से लागू होंगे।

महत्वपूर्ण खबर: कपास मंडी रेट (13 जनवरी 2023 के अनुसार)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *