राष्ट्रीय कृषि समाचार (National Agriculture News)

किसानों की खुशियों का त्योहार: पीएम मोदी आज वाराणसी में पीएम-किसान योजना की 17वीं किस्त करेंगे जारी

Share

9.26 करोड़ किसानों को 20,000 करोड़ रुपये का लाभ, 30,000 कृषि सखियों को मिलेंगे प्रमाण पत्र

18 जून 2024, नई दिल्ली: किसानों की खुशियों का त्योहार: पीएम मोदी आज वाराणसी में पीएम-किसान योजना की 17वीं किस्त करेंगे जारी – प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी 18 जून 2024 को वाराणसी में पीएम-किसान योजना की 17वीं किस्त जारी करेंगे, जिसमें 9.26 करोड़ से अधिक किसानों को 20,000 करोड़ रुपये से अधिक का लाभ मिलेगा। प्रधानमंत्री 30,000 से अधिक स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) की कृषि सखियों को प्रमाण पत्र भी वितरित करेंगे, जिन्हें कृषि विस्तार कार्यकर्ता के रूप में प्रशिक्षित किया गया है।

कार्यक्रम में शामिल होने वाले गणमान्य व्यक्ति

इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय कृषि मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और कई अन्य राज्य मंत्री उपस्थित रहेंगे। इस कार्यक्रम में 2.5 करोड़ से अधिक किसान शामिल होंगे, जो 732 कृषि विज्ञान केंद्र, 1 लाख से अधिक प्राथमिक कृषि सहकारी समितियां और 5 लाख सामान्य सेवा केंद्रों के माध्यम से जुड़ेंगे।

कृषि विकास केंद्रों पर विशेष कार्यक्रम

50 चयनित कृषि विकास केंद्रों पर विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे, जहां बड़ी संख्या में किसान शामिल होंगे। इन केंद्रों पर केंद्रीय मंत्री भी किसानों के साथ संवाद करेंगे और उन्हें नवीनतम कृषि तकनीकों, जलवायु अनुकूल कृषि, और पीएम-किसान लाभार्थी स्थिति जांचने के तरीकों के बारे में जानकारी देंगे।

कृषि मंत्री का बयान

केंद्रीय कृषि मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने 15 जून 2024 को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कृषि की महत्वपूर्ण भूमिका और प्रधानमंत्री मोदी के किसानों के प्रति समर्थन पर जोर दिया। उन्होंने बताया कि पीएम-किसान योजना ने किसानों को महत्वपूर्ण वित्तीय सहायता प्रदान की है और सरकार का यह निरंतर प्रयास है कि किसानों को अधिक से अधिक लाभ पहुंचाया जा सके।

कृषि सखियों की भूमिका

कृषि सखियों को कृषि विस्तार कार्यकर्ता के रूप में इसलिए चुना गया है क्योंकि वे विश्वसनीय सामुदायिक संसाधन व्यक्ति और स्वयं अनुभवी किसान हैं। अब तक, 70,000 में से 34,000 से अधिक कृषि सखियों को पैरा-एक्सटेंशन कार्यकर्ता के रूप में प्रमाणित किया जा चुका है। ये सखियाँ किसानों को अच्छे कृषि अभ्यास और नई तकनीकों के बारे में मार्गदर्शन करती हैं।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

Share
Advertisements