नारियल की खेती करने वाले किसान केंद्रीय कृषि मंत्री से हुए रूबरू

Share

02 सितंबर 2022, जूनागढ़ (गुजरात) / नई दिल्ली: नारियल की खेती करने वाले किसान केंद्रीय कृषि मंत्री से हुए रूबरू – केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सारी दुनिया को भारत की ताकत का अहसास कराते हुए देश की साख बढ़ाई है। साथ ही वे गांव-गरीब-किसान को कभी भी नहीं भूलते हैं, गरीबों की ताकत बढ़ेगी तो देश की ताकत बढ़ेगी, गांवों में विकास होगा तो देश में विकास होगा व किसानों के घर समृद्धि आएगी तो भारत माता समृद्ध होगी। इस कल्पना को साकार करने के लिए पीएम लगातार प्रयत्न करते रहते हैं। मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री श्री तोमर ने यह बात नारियल की खेती करने वाले किसानों के सम्मेलन में जूनागढ़ (गुजरात) कही।

श्री तोमर ने कहा कि देश में नारियल की खेती बढ़े, यह प्रधानमंत्रीजी की सद्इच्छा है, देश में प्रोसेसिंग यूनिट व उत्पादों का निर्यात बढ़े, इसके लिए वे लगातार पूछते रहते हैं। आम किसानों के लिए सुरक्षा कवच के रूप में उपलब्ध प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की तरह नारियल के किसानों के लिए भी बीमा कवर हैं, जिसमें केंद्र, राज्य व किसान की प्रीमियम क्रमशः 50, 25 व 25 प्रतिशत के अनुपात में है, सभी को इसका लाभ लेना चाहिए।

श्री तोमर ने बताया कि पीएम ने सिर्फ कहा ही नहीं, बल्कि किसानों को आय सहायता दी जा रही है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) के तहत गुजरात में 61.43 लाख किसानों को 11,395.38 करोड़ रु. दिए गए हैं, वहीं देशभर में साढ़े 11 करोड़ किसानों को दो लाख करोड़ रु. से ज्यादा राशि बैंक खातों में दी। खाद्य तेलों की कमी पूरी करने के लिए 11 हजार करोड़ रु. का ऑयल पाम मिशन शुरू किया गया, ।

महत्वपूर्ण खबर: लहसुन, प्याज के किसानों की मांग लेकर कृषि मंत्री पटेल दिल्ली में

कार्यक्रम में गुजरात के कृषि, पशुपालन व गौ प्रजनन मंत्री श्री राघवजीभाई पटेल, जूनागढ़ के सांसद श्री राजेशभाई नारनभाई चुडासमा, राज्य के पूर्व मंत्री श्री जवाहर भाई, महापौर गीताबेन परमार, उप महापौर श्री गिरीशभाई कोटेचा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शांताबेन खटरिया, श्री किरीटभाई पटेल, विधायक श्री जवाहरभाई चावड़ा, केंद्रीय बागवानी आयुक्त डा. प्रभात कुमार, कुलपति श्री चौटिया व अन्य लोग मौजूद थे।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.