देश में रिकॉर्ड 31.45 करोड़ टन खाद्यान्न उत्पादन होने का अनुमान

Share

2021-22 के लिए मुख्य फसलों के उत्पादन का तीसरा अग्रिम अनुमान

20 मई 2022, नई दिल्ली । देश में रिकॉर्ड 31.45 करोड़ टन खाद्यान्न उत्पादन होने का अनुमान – केंद्रीय कृषि मंत्रालय द्वारा वर्ष 2021-22 के लिए प्रमुख कृषि फसलों के उत्पादन का तीसरा अग्रिम अनुमान जारी किया गया है। देश में खाद्यान्न का उत्पादन रिकॉर्ड 31.451 करोड़ टन होने का अनुमान है जो 2020-21 की अवधि के खाद्यान्न उत्पादन की तुलना में 37.7 लाख टन अधिक है। 2021-22 के दौरान उत्पादन पिछले पांच वर्षों (2016-17 से 2020-21) के औसत खाद्यान्न उत्पादन की तुलना में 2.38 करोड़ टन अधिक है। चावल, मक्का, दालें, तिलहन, चना, रेपसीड एवं सरसों और गन्ने का रिकॉर्ड उत्पादन अनुमानित है। कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा है कि इतनी सारी फसलों का यह रिकार्ड उत्पादन केन्द्र सरकार की किसान हितैषी नीतियों के साथ ही किसानों के अथक परिश्रम और वैज्ञानिकों की लगन का परिणाम है।

तीसरे अग्रिम अनुमान के अनुसार, 2021-22 के दौरान प्रमुख फसलों का अनुमानित उत्पादन निम्नानुसार है:

खाद्यान्न 31.451 करोड़ टन, चावल 12.966 करोड़ टन (रिकॉर्ड स्तर), गेहूं 10.641 करोड़ टन, पोषक / मोटे अनाज 5.070 करोड़ टन, मक्का 3.318 करोड़ टन (रिकॉर्ड स्तर), दलहन 2.775 करोड़ टन (रिकॉर्ड स्तर), तूर 43.5 लाख टन, चना 1.398 करोड़ टन (रिकॉर्ड स्तर), तिलहन 3.850 करोड़ टन (रिकॉर्ड स्तर), मूंगफली 1.009 करोड़ टन, सोयाबीन 1.383 करोड़ टन, रेपसीड और सरसों 1.175 करोड़ टन (रिकॉर्ड स्तर), गन्ना 43.05 करोड़ टन (रिकॉर्ड स्तर), कपास 3.154 करोड़ गांठ (प्रत्येक 170 किलोग्राम), जूट और मेस्टा 1.022 करोड़ गांठें (प्रत्येक 180 किग्रा)

2021-22 के लिए तीसरे अग्रिम अनुमान के अनुसार, देश में कुल खाद्यान्न उत्पादन रिकॉर्ड 31.451 करोड़ टन होने का अनुमान है जो 2020-21 के दौरान खाद्यान्न उत्पादन की तुलना में 37.7 लाख टन अधिक है। इसके अलावा, 2021-22 के दौरान उत्पादन पिछले पांच वर्षों (2016-17 से 2020-21) के औसत खाद्यान्न उत्पादन की तुलना में 2.380 करोड़ टन अधिक है।

महत्वपूर्ण खबर: किसान संगठनों के हस्तक्षेप के बाद किसानों को हुआ 40 लाख का भुगतान

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.