खरीफ 2020-21 में 144.52 मिलियन टन रिकॉर्ड खाद्यान्‍न उत्‍पादन का अनुमान

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

धान भी पांच साल का रिकॉर्ड तोड़ेगा

24 सितंबर 2020, नयी दिल्ली। खरीफ 2020-21 में 144.52 मिलियन टन रिकॉर्ड खाद्यान्‍न उत्‍पादन का अनुमान देश में अच्छे मानसून से खरीफ फसलों के रिकॉर्ड उत्पादन का अनुमान लगाया जा रह है कृषि मंत्रालय द्वारा 2020-21 की प्रमुख खरीफ फसलों के उत्पादन के पहले अग्रिम अनुमान जारी किए गए हैं। विभिन्न फसलों के उत्पादन का आकलन राज्यों से प्राप्त आंकड़ों पर आधारित है और अन्य स्रोतों से उपलब्ध जानकारी के साथ मान्य है। 2020-21 के प्रथम अग्रिम अनुमान के अनुसार विभिन्न फसलों के अनुमानित उत्पादन के विषय में वर्ष 2005-06 के बाद से तुलनात्मक अनुमान संलग्न हैं।

महत्वपूर्ण खबर : चने की नई किस्म जे.जी. 12 का बीज उपलब्ध

प्रथम अग्रिम अनुमान के अनुसार, खरीफ 2020-21 के दौरान प्रमुख फसलों का अनुमानित उत्पादन निम्नानुसार है:

  • खाद्यान्‍न – 144.52 मिलियन टन (रिकॉर्ड)
  • चावल – 102.36 मिलियन टन (रिकॉर्ड)
  • पोषक तत्‍व / मोटा अनाज – 32.84 मिलियन टन
  • मक्‍का – 19.88 मिलियन टन
  • दालें – 9.31 मिलियन टन
  • तुअर – 4.04 मिलियन टन
  • तिलहन – 25.73 मिलियन टन
  • मूंगफली – 9.54 मिलियन टन (रिकॉर्ड)
  • सोयाबीन – 13.58 मिलियन टन
  • कपास – 37.12 मिलियन बेल (170 किग्रा. का प्रत्‍येक)
  • जूट और मेस्‍ता – 9.66 मिलियन बेल (180 किग्रा. का प्रत्‍येक)
  • गन्‍ना – 399.83 मिलियन टन

इस वर्ष के दक्षिण-पश्चिम मानसून मौसम के दौरान 16 सितंबर, 2020 तक संचयी वर्षा दीर्घ अवधि औसत (एलपीए) से 7 प्रतिशत अधिक रही। अधिकांश प्रमुख फसल उत्पादक राज्यों में सामान्य वर्षा देखी गई है। कृषि वर्ष 2020-21 के लिए अधिकांश फसलों का उत्पादन उनके सामान्य उत्पादन से अधिक होने का अनुमान लगाया गया है। हालाँकि, ये अनुमान राज्यों से आगे मिलने वाली जानकारी के आधार पर संशोधित होंगे। 2020-21 के लिए पहले अग्रिम अनुमानों (केवल खरीफ) के अनुसार, देश में कुल खाद्यान्न उत्पादन 144.52 मिलियन टन होने का अनुमान है। 2020-21 के दौरान उत्पादन पिछले पांच वर्षों के औसत खाद्यान्न उत्पादन (2014-15 से 2018-19) के मुकाबले 9.83 मिलियन टन अधिक है। 2020-21 के दौरान खरीफ चावल का कुल उत्पादन 102.36 मिलियन टन होने का अनुमान है। यह पिछले पांच वर्षों के औसत उत्पादन 95.66 मिलियन टन की तुलना में 6.70 मिलियन टन अधिक है।

पोषक तत्वों / मोटे अनाजों का उत्पादन 32.84 मिलियन टन होने का अनुमान है, जो 31.39 मिलियन टन के औसत उत्पादन की तुलना में 1.45 मिलियन टन अधिक है।

2020-21 के दौरान कुल खरीफ दालों का उत्पादन 9.31 मिलियन टन होने का अनुमान है। यह 2019-20 (चौथे अग्रिम अनुमान) में 7.72 मिलियन टन दालों के उत्पादन की तुलना में 1.59 मिलियन टन अधिक है।

देश में इस वर्ष कुल खरीफ तिलहन उत्पादन 25.73 मिलियन टन होने का अनुमान है जो 2019-20 के दौरान उत्पादन की तुलना में 3.41 मिलियन टन अधिक है। इसके अलावा, 2020-21 के दौरान तिलहन का उत्पादन औसत तिलहन उत्पादन की तुलना में 5.90 मिलियन टन अधिक है।

वहीँ गन्ने का कुल उत्पादन इस 399.83 मिलियन टन होने का अनुमान है। 2020-21 के दौरान गन्ने का उत्पादन औसतन 360.43 मिलियन टन गन्ने के उत्पादन की तुलना में 39.40 मिलियन टन अधिक है।

कपास का उत्पादन 37.12 मिलियन गांठ (प्रत्येक 170 किलो) अनुमानित है, 2019-20 के दौरान 35.49 मिलियन गांठ के उत्पादन की तुलना में 1.63 मिलियन गांठ अधिक है। जूट और मेस्टा का उत्पादन 9.66 मिलियन गांठ (प्रत्येक 180 किलोग्राम) होने का अनुमान है।

विवरण के लिए यहां क्लिक करें

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight + 5 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।