कोरोना से जंग में महिन्द्रा समूह भी आगे

Share

कोरोना से जंग में महिन्द्रा समूह भी आगे

मुम्बई। देश का अग्रणी उद्योग समूह महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा हमेशा देश की प्रगति में योगदान देता रहा है। समूह ने अपने उद्योग की उन्नति के साथ साथ अपने सामाजिक दायित्वों को भी हमेशा अग्रणी रहकर निभाया है। विश्वव्यापी कोरोना महामारी के इस समय में भी महिन्द्रा समूह अपने समाज सेवा के दायित्व को बखूबी निभा रहा है।

Anand Mahindra

श्री आनंद महिन्द्रा ने ऐसे समय में समाज को सहयोग करने की अग्रणी भूमिका निभाई है। उन्होने महिन्द्रा समूह के सारे संसाधनों को इस लड़ाई में लगाने की अनूठी पहल की है।

सस्ते वेंटीलेटर का निर्माण- श्री महिन्द्रा ने अपनी तकनीकी टीम को कम लागत वाले वेंटीलेटर के शोध एवं निर्माण के निर्देश दिए हैं। यह सर्वज्ञात है कि महामारी बढने की दशा में अत्यधिक मात्रा में वेंटीलेटर की आवश्यकता होगी। पर वेंटिलेटर की कीमत 5 से 10 लाख रुपये तक होती है और माँग के मुक़ाबले उनकी उपलब्धता भा कम होगी । ऐसी स्थिति में कम लागत के स्वदेशी वेंटीलेटर अधिक उपयोगी साबित होंगे।
महिन्द्रा हाॅलिडे रिसार्ट बनेंगे अस्पताल- श्री आनंद महिन्द्रा के अनुसार महिन्द्रा के हाॅलिडे रिसार्ट का उपयोग अस्थाई अस्पताल के रुप में किया जायेगा। इस हेतु महिन्द्रा की संबंधित टीम को उन्होने सरकार एवं सेना से समन्वय बनाये रखने के निर्देश दिए हैं।

Mahindra Tractor

पीथमपुर प्लांट में फेस मास्क बना रहे हैं –
महिन्द्रा समूह के पीथमपुर स्थित दोपहिया वाहन कारख़ाने में मास्क का उत्पादन किया जा रहा है। इस तरह के 1 लाख फेस मास्क के उत्पादन का लक्ष्य है जो स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं व अन्य लोगो के उपयोग में आयेंगे।
इसके अलावा समूह के 10 कार्यालयों में संचालित होने वाले किचनों के माध्यम से जरुरतमंदों को वितरित करने के लिए 10 – 10 हजार खाने एवं राशन के पैकेट तैयार किए गये हैं। श्री आनंद महिन्द्रा ने मंझोले एवं लघु उद्योगों की सहायता के लिए एक फंड की स्थापना भी की है, जिसमें उन्होने स्वयं का 1 माह का वेतन दान किया है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.