इंसेक्टीसाइड्स इंडिया का प्याज के लिए खरपतवारनाशक ‘ऑक्सिम’ लॉन्च

Share

4 अक्टूबर 2021, नई दिल्ली । इंसेक्टीसाइड्स इंडिया का प्याज के लिए खरपतवारनाशक ‘ऑक्सिम’ लॉन्च – जल्द शुरू होने वाले प्याज के सीजन में बुवाई और रोपाई की तैयारी कर रहे किसानों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए प्रमुख एग्रो केमिकल निर्माता कंपनी इंसेक्टीसाइड्स (इं.) लि. ने अपना नया खरपतवारनाशक ऑक्सिम लांच किया। यह खरपतवारनाशक सकरी और चौड़ी दोनों तरह के खरपतवारों को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करेगा। ऑक्सिम को इंसेक्टीसाइड्स द्वारा उनके लोकप्रिय ‘ट्रैक्टर ब्रांड’ के तहत बाजार में उपलब्ध कराया जायेगा।

  • प्याज की फसल में सकरी और चौड़ी पत्ती वाले खरपतवारों को नियंत्रित करने के लिए ऑक्सिम एक आधुनिक खरपतवारनाशक है।
  • ज्यादा पैदावार और अच्छी फसल के लिए खेत में खरपतवारों का न होना जरूरी है।
  • ऑक्सिम को इंसेक्टीसाइड्स द्वारा उनके लोकप्रिय ‘ट्रैक्टर ब्रांड’ के तहत बाजार में उपलब्ध कराया जायेगा।

प्याज बुवाई या रोपाई के 15 से 20 दिन की अवस्था या जब खरपतवार 2 से 3 पत्ती की अवस्था में हो तब ऑक्सिम का प्रयोग किया जाना चाहिए। खासतौर पर यह उन क्षेत्रों में भी बहुत असरदार हो सकता है जहां सीधे प्याज की बुवाई की जाती है वहां हाथ से निराई बहुत कठिन और महंगी साबित होती है, इसलिए ऑक्सिम इन क्षेत्रों के लिए एक बढिय़ा समाधान साबित होगा।

इंसेक्टीसाइड्स (इं.) लि. के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री राजेश अग्रवाल ने इस नए उत्पाद के लांच के मौके पर कहा, ‘‘भारत प्याज के सबसे बड़े उत्पादकों में से एक है और इसकी लगभग 70 प्रतिशत पैदावार रबी सीजन में होती है। किसी भी फसल में खरपतवार होने से फसल की पैदावार पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। खेत में खरपतवार अधिक होने से फसल में कीट और बीमारियों का प्रकोप भी बढ़ जाता है। नया हर्बिसाइड ऑक्सिम प्याज उगाने वाले किसानों के लिए विशेष रूप से बनाया गया है ताकि उन्हें खरपतवारों से छुटकारा मिल सके। ऑक्सिम महाराष्ट्र, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, गुजरात, बिहार और राजस्थान के प्याज किसानों की मदद करेगा।

इस साल जुलाई में लॉन्च किए गए खरपतवारनाशक हाचीमैन के लॉन्च के बाद ऑक्सिम इसी कड़ी में लॉन्च होने वाला दूसरा उत्पाद है।

इंसेक्टीसाइड्स (इं.) लि. के वाइस प्रेसीडेंट श्री पी.सी. पब्बी ने उत्पाद के बारे में कहा, ‘आगामी रबी सीजन में पश्चिमी क्षेत्र के महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात में ऑक्सिम की अच्छी स्वीकार्यता मिलने का हमें पूर्ण विश्वास है। हम उम्मीद करते हैं कि किसानों ने जिस तरह हाचीमैन को अपनाया उसी तरह ऑक्सिम को भी एक लोकप्रिय ब्रांड बनाएंगे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.