इफको ने कृषकों में नैनो यूरिया जागरूकता का प्रदेशव्यापी अभियान चलाया

Share

21 फरवरी 2022, भोपाल । इफको ने कृषकों में नैनो यूरिया जागरूकता का प्रदेशव्यापी अभियान चलाया इफको द्वारा नैनो यूरिया का उत्पादन बढ़ाने के साथ ही मप्र में इसकी उपलब्धता में भी वृद्धि हुई है। किसानों के मध्य नैनो यूरिया के प्रति जागरूकता लाने के लिए इफको द्वारा प्रदेशव्यापी अभियान चलाया जा रहा है। इफको नैनो यूरिया के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए प्रचार वाहन, किसान सभाओं जैसी गतिविधियाँ आयोजित की जा रही हैं। भोपाल से इफको मोबाईल पब्लिसिटी वेन को श्री पी. नरहरि, (आईएएस), प्रबंध संचालक, मध्य प्रदेश मार्कफेड एवं निदेशक इफको द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

इस अवसर पर श्री एम.के. पाठक मुख्य महाप्रबंधक (उर्वरक) मार्कफेड, श्री बहादुर राम राज्य विपणन प्रबंधक इफको, श्री एम.एल. जोशी राज्य अधिकारी इफको ई बाजार, डॉ. डी.के. सोलंकी मुख्य प्रबंधक कृषि सेवाएं, इफको, डॉ. ओमशरण तिवारी एवं श्री पी.आर. बारंगे इफको भोपाल उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि गत 18 फरवरी से एक माह के लिए संपूर्ण मध्य प्रदेश में इफको नैनो यूरिया (तरल) के व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु 22 मोबाईल पब्लिसिटी वेन चलाई गयी है। इससे मध्य प्रदेश के किसानों को इफको नैनो यूरिया के उपयोग व किसानों व पर्यावरण को होने वाले लाभ के बारे में भली-भांति जागरुक किया जा सकेगा। प्रत्येक वेन पर पर्याप्त मात्रा में इससे संबंधित कृषि साहित्य भी उपलब्ध है।

इफको- आईपीएल गठबंधन

इफको नैनो यूरिया की सुलभ उपलब्धता के लिए इफको एवं इंडियन पोटाश लि. के मध्य आईपीएल के डीलर नेटवर्क के माध्यम से इफको नैनो यूरिया उपलब्ध कराने के लिए गठबंधन हुआ है। इसी सम्बंध में इफको एवं आईपीएल के मप्र डीलरों  की ऑनलाइन मीटिंग में डॉ. तरणेंदु मैनेजर एवं हेड एग्री सर्विसेज इफको नई दिल्ली, श्री बहादुर राम एसएमएम इफको, श्री नितेश शर्मा एसएमएम आईपीएल, डॉ. डी.के. सोलंकी व डॉ. ओम सरन तिवारी इफको भोपाल उपस्थित रहे।

जिलों में अभियान ने पकड़ी गति

इस अभियान को गति देते हुए  खरगोन में अपर कलेक्टर श्री एसएस मुजाल्दा, कृषि उप संचालक श्री एमएल चौहान, डीएमओ सुश्री श्वेता सिंह द्वारा इफको नैनो यूरिया प्रचार वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान इफको के जिला प्रमुख श्री तुकेश कुमार मनाथे, आईपीएल के श्री अनिरूद्ध नामदेव सहित कृषि विभाग के अधिकारी उपस्थिति रहे।  वहीं सीहोर में  अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोवर (आईउएएस) ने  हरी झंडी दिखाकर नैनो यूरिया प्रचार रथ को रवाना किया। इस अवसर पर उप संचालक कृषि श्री रामशंकर जाट एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। बैतूल जिले के ग्राम खड़ला में भी  किसान दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान इफको नैनो यूरिया के बारे में विस्तार से बताया गया।

कैसे काम करता है नैनो यूरिया

सभी फसलों के लिए उपयोगी नैनो यूरिया पौधों को नाइट्रोजन प्रदान करने का उत्तम किफायती स्त्रोत है। यह पर्यावरण को सुरक्षित रख भण्डारण एवं परिवहन के खर्चों से भी बचाता है। केवल 4 प्रतिशत नाइट्रोजन वाला   नैनो यूरिया पानी की अल्प उपलब्धता  में भी अच्छा कार्य करता है।

मात्रा – इफको नैनो यूरिया की 2-4 मिली मात्रा 1 लीटर पानी में घोल बनाकर छिड़काव करते हैं। जिसमें 1 एकड़ क्षेत्र के लिए 125 लीटर पानी की आवश्यकता होती है।
छिड़काव – अच्छे परिणाम के लिए दो छिड़काव आवश्यक होते हैं। पहला छिड़काव अंकुरण के 30-35 दिन बाद तथा दूसरा छिड़काव फूल आने से 7-10 दिन पहले करें।
मूल्य – नैनो यूरिया की 500 मिली बॉटल का उपयोग 1 बोरी यूरिया के बराबर है तथा इसकी  कीमत 240 रूपये है। 

 

महत्वपूर्ण खबर: गोबर-धन बायो सीएनजी प्लांट का प्रधानमंत्री ने किया लोकार्पण

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.