रासी 3499 मक्का का फसल प्रदर्शन सम्पन्न

Share

इंदौर। देश की प्रसिद्ध बीज कम्पनी राशि सीड्स प्रा. लि. द्वारा गत दिनों धरमपुरी जिला धार में अपने उत्पाद 3499 मक्का का फसल प्रदर्शन किया गया, जिसमें श्री कुंदन कुमार नेशनल सेल्स मैनेजर, श्री संजय सिंह डिवीजनल बिजनेस मैनेजर (सेन्ट्रल), श्री बी.के. मिश्रा डिवीजनल क्रॉप मैनेजर,श्री उपेंद्र सिंह सीनियर मेज ब्रीडर, सौम्या शुक्ला डिवीजनल मार्केटिंग को आर्डिनेटर, श्री अरविन्द ठाकुर रीजनल बिजनेस मैनेजर, फसल प्रदर्शक किसान श्री संतोष कुमार जैन (पाटनी) सहित बड़ी संख्या में वितरक/विक्रेता उपस्थित थे।

श्री कुंदन कुमार ने बताया कि रासी सीड्स की स्थापना 1973 में तमिलनाडु में डॉ.एम. रामास्वामी ने की थी। बीजोत्पादन से शुरू हुआ यह सफर आज देश की दूसरी सबसे बड़ी बीज कम्पनी के मुकाम तक पहुँच गया है। अगले पांच सालों में किसानों की जरूरत, खेती के तरीके, जलवायु परिवर्तन और बीज व्यवसाय में आने वाले बदलाव का जिक्र करते हुए श्री कुमार ने कहा कि ऐसे में वही कम्पनी टिक पाएगी जो किसानों का भरोसा जीतेगी। तकनीकी में अग्रिम रहने वाली रासी ने कॉटन में सफलता के बाद अब रासी मक्का 3499 पेश किया है, जो वर्षों के अनुसंधान के बाद गत वर्ष परीक्षण के बाद जारी किया है। इसका भुट्टा दाने से भरा हुआ है। देश के 8 राज्यों में 30 अक्टूबर तक 2500 वितरक /विक्रेता सम्मेलन होंगे।

श्री उपेंद्र सिंह ने बताया कि एक उत्पाद को तैयार करने में 6 साल लगते हैं। 2013 में बॉयर कम्पनी के मक्का डिवीजन के अधिग्रहण के बाद से यह परीक्षण किया जा रहा था। रासी के 15 परीक्षण केंद्र हैं जहां ट्रायल किए जाते हैं। अनुसंधान कार्य निरंतर जारी हैं। भविष्य में विभिन्न हाइब्रिड किस्में जल्द पेश की जाएगी। श्री बी. के. मिश्रा ने ट्रायल, ब्रीडिंग, पीडी 1 -2 की विस्तार से जानकारी देकर मक्का 3499 की तारीफ करते हुए कहा कि लगातार बारिश और फॉल आर्मी वर्म के खतरे के बावजूद इसने अच्छे नतीजे दिए हैं। रासी कॉटन में अव्वल आने के बाद अब हमारे प्रयास हैं कि फील्ड क्रॉप में भी प्रथम रहें, जिसमें आपका सहयोग अपेक्षित है। 

सौम्या शुक्ला ने कॉटन रासी एप्प की सफलता की जानकारी देते हुए कहा कि फील्ड क्रॉप मक्का के लिए एप में किसान रजिस्ट्रेशन कराएं। यह दिवाली तक शुरू हो जाएगा। इसका मकसद छोटे वितरकों को जोडऩा है। 

आपने कपास के नए उत्पाद  रासी मैजिक लांच होने की जानकारी भी दी, जो अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता के कारण विपरीत परिस्थिति में भी अच्छे नतीजे देता है। इसके अब तक 750 डेमो हो चुके हैं। अपने खेत में रासी 3499 मक्का का फसल प्रदर्शन कराने वाले श्री संतोष जैन (पाटनी) ने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि इस साल प्रतिकूल परिस्थिति में भी रासी 3499  मक्का ने बिना कोई स्प्रे किए अच्छा परिणाम दिया है। भुट्टे में दाना ऊपरी सिरे तक पूरा भरा हुआ है। आपने किसानों से इसे उपयोग करने की अपील की। संचालन श्री अरविन्द सिंह ठाकुर ने किया और आभार श्री संजय सिंह ने माना।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.