अश्वगंधा लगाने के लिए किसानों को किया जा रहा प्रेरित

Share

(दिलीप दसौंधी, मंडलेश्वर )

11 नवंबर 2021, अश्वगंधा लगाने के लिए किसानों को किया जा रहा प्रेरित अश्वगंधा की फसल के नवाचार के लिए खरगोन जिले में आत्मा परियोजना द्वारा किसानों को प्रेरित किया जा रहा है। इसके लिए जिले के 9 ब्लॉक से 100 किसानों का चयन किया जाना है। जिले के कसरावद ब्लॉक का सबसे पहले पायलट प्रोजेक्ट के तहत चयन किया गया था। यहां के किसानों को अश्वगंधा फसल में मिली सफलता से अन्य किसान भी रूचि ले रहे हैं।
आत्मा परियोजना के कसरावद ब्लॉक के बीटीएम श्री देवेंद्र सिंह चौहान ने कृषक जगत को बताया कि अश्वगंधा की फसल के लिए कसरावद ब्लॉक का सबसे पहले पायलट प्रोजेक्ट के तहत चयन किया गया था। यहां के किसानों को अश्वगंधा फसल में मिली सफलता के बाद अन्य किसान भी रूचि ले रहे हैं। इसे लेकर पूरे जिले में अश्वगंधा की खेती के लिए नवाचार हेतु किसानों को प्रेरित किया जा रहा है।

कसरावद ब्लॉक से 20 किसानों का चयन किया जाएगा। इसके लिए नीमच से 6 क्विंटल बीज का प्रबंध किया जाएगा। झिरन्या ब्लॉक में दो किसान ड्रेगन फू्रट और स्ट्राबेरी की खेती कर रहे हैं, वहीं 5 किसान एक एकड़ में अकरकरा और कलौंजी की खेती भी कर रहे हैं। औषधीय फसलों की तरफ किसानों का रुझान बढ़ा है।

आत्मा परियोजना के संचालक श्री केके पांडेय ने कृषक जगत को बताया कि किसानों को अश्वगंधा फसल को नवाचार के रूप में करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है । जिले के 9 ब्लॉक से कुल 100 किसानों को चयनित किया जाएगा। इसमें कसरावद ब्लॉक से 20 किसानों के अलावा महेश्वर, बड़वाह,भीकनगांव और भगवानपुरा प्रत्येक ब्लॉक से 15, कुल 60 और गोगांवा/सेगांव/झिरन्या ब्लॉक से 5-5 कुल 15 किसान चयनित किए जाएंगे। शेष 5 किसानों का चयन अन्य ब्लॉक से किया जाएगा। अश्वगंधा की इस औषधीय खेती के नतीजे देखने के बाद किसानों के समूह तैयार किए जाएंगे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.