पशु रोग के लिए मोबाइल एप

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

नई दिल्ली। केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री, श्री राधामोहन सिंह ने गत दिनों नई दिल्ली में आईसीएआर-निवेदी द्वारा विकसित पशु रोग पूर्वानुमान मोबाइल एप्लीकेशन (एलडीएफएम-एप) लांच किया। इस अवसर पर श्री सिंह ने कहा कि भारत ने मवेशियों के पोका-पोकनी रोग का सफलतापूर्वक उन्मूलन किया है। केन्द्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि इसी तरह पशुओं के विभिन्न रोगों जैसे खुरपका-मुंहपका, ब्रुस्लोसिस, बकरी प्लेग, गलाघोंटू, ब्लुटंग, शुकर ज्वर आदि को नियंत्रित करने के लिये भी प्रयासों की आवश्यकता है जिनसे पशुधन उद्योग को भारी आर्थिक नुकसान से बचाया जा सके।
श्री सिंह ने बताया कि इसी क्रम में आईसीएआर-राष्ट्रीय पशुरोग जानपदिक एवं सूचना विज्ञान संस्थान (निवेदी) बेंगलुरू ने पूर्व में रोग प्रकोप के आधार पर 13 रोगों की प्राथमिकता का निर्धारण किया है और इनका एक मजबूत डाटाबेस तैयार किया है जो कि राष्ट्रीय पशुरोग रेफरल विशेषज्ञ प्रणाली का आधारभूत है। इसका उपयोग हर माह पशुरोगों की पूर्व चेतावनी देने के लिये किया जाता है और इससे मासिक बुलेटिन के रूप में राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर पशुपालन विभाग को सतर्क किया जाता है ताकि जनपद स्तर पर आवश्यक नियंत्रण उपाय किए जा सकें। केन्द्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि विभिन्न हितधारकों के बीच इस पूर्व चेतावनी की पहुंच बढ़ाने के लिए आईसीएआर – निवेदी संस्थान ने एक मोबाइल एप्लीकेशन एप (एलडीएफएम एफ) को विकसित किया है। श्री सिंह ने बताया कि इस मोबाइल एप में पूर्व चेतावनी के लिये मासिक बुलेटिन की ही तकनीक का इस्तेमाल किया गया है। इस अवसर पर भाकृअप के महानिदेशक डॉ. त्रिलोचन महापात्रा भी उपस्थित थे

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen + twelve =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।