21 अप्रैल से प्रारंभ होगी कृषक जगत कृषि पर्यटन यात्रा

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

इजराइल के लिए तीन समूह में रवाना होंगे सदस्य
75 सदस्यीय भ्रमण दल करेगा एग्रीटेक-2015 का अवलोकन

इंदौर। कृषक जगत के नेतृत्व में इजराइल के तेल अबीव में आयोजित एग्रीटेक-2015 का अवलोकन करने 75 सदस्य तीन समूहों में रवाना होंगे। कृषक जगत के निदेशक श्री सचिन बोंद्रिया ने भ्रमण कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि पहला समूह 21 अप्रैल को टर्किश एयरलाइन्स से मुंबई से प्रात: 6 बजे रवाना होगा, जो कि इस्तांबुल (टर्की) का भ्रमण करते हुए 24 अप्रैल को शाम 5 बजे जेरूसेलम (इजराइल) स्थित होटल नावे इलान पहुंचेगा। दूसरा समूह 23 अप्रैल को शाम 7 बजे मुंबई से एमेरिट्स एयरलाइन्स से रवाना होकर दुबई (यूएई) एवं अमान (जॉर्डन) का भ्रमण कर शाम होटल नावे इलान पहुंचेगा। वहीं तीसरा समूह 24 अप्रैल की सुबह 6 बजे मुंबई से रवाना होगा, जो शाम सीधे होटल नावे इलान पहुंचेगा।
मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात एवं महाराष्ट्र के प्रगतिशील कृषक, उद्यमी, वैज्ञानिक एवं ब्यूरोक्रेट्स वाले 75 सदस्यीय दल के लिए 24 अप्रैल को शाम 8 बजे गाला डिनर का आयोजन होगा। इस शाही भोज में नानडान जैन, जिनेगर एवं पोलीसेक के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे। डिनर के दौरान सभी सदस्यों का आपस में परिचय कराया जाएगा, वहीं उन्हें एग्रीटेक-2015 के अवलोकन एवं इजराइल भ्रमण कार्यक्रम की संपूर्ण जानकारी दी जाएगी। इजराइल यात्रा में जैन इरिगेशन एवं जिनेगर कम्पनी का पूर्ण सहयोग रहेगा।
25 अप्रैल को ग्रुप के सदस्य विश्व के तीन धर्मों जुदेइम, क्रिश्चिन एवं इस्लाम के दुनिया के सबसे प्राचीन एवं पवित्र शहर जेरूसलम के साथ ही, जार्डन नदी, जुदान हिल्स आदि देखेंगे। सदस्यों को दुनिया के दूसरे सबसे खारे समुद्र मृत सागर (डेड सी) देखने का मौका भी मिलेगा, जो कि समुद्र तल से लगभग 423 मीटर नीचे स्थित है।
उल्लेखनीय है कि इस डेड सी में डूबना असंभव होता है, इसकी गहराई में लेटे हुए अखबार भी पढ़ा जा सकता है।
26 अप्रैल को साढ़े चार सौ किलोमीटर से अधिक के भ्रमण कार्यक्रम में सुबह साढ़े सात बजे से अफूला स्थित हिस्टिल हाईटेक वेजिटेबल नर्सरी, विश्व की ख्यात फिल्म सप्लायर कम्पनी जिनेगर प्लास्टिक प्रॉडक्ट्स लि. में 5-लेयर मशीन, 20 मीटर चौड़ी फिल्म, ग्रीन हाउस फिल्म, पॉण्ड लाइनिंग, मल्च फिल्म सहित लेबोरेटरी देख सकेंगे। तेल कात्जिर में प्लास्टिक की मदद से समय पूर्व तरबूज, नेट हाउस में केले की खेती देखेंगे।
27 अप्रैल को मोशोव (को-आपरेटिव मार्केटिंग) में लखिश स्थित किसानों द्वारा उत्पादित ब्रांडेड ताली ग्रेप का अवलोकन करेंगे। यहां विभिन्न नेट्स और फिल्म में अंगूर उत्पादन, मिशमार हेने गेव में मरुभूमि में अनार, बादाम उत्पादन, आर्किड मल्चिंग का अवलोकन करेंगे। नेट हाऊस एवं पॉली हाऊस में अतिआधुनिक टमाटर की खेती का अवलोकन करेंगे। उल्लेखनीय है कि यहां औसतन 3 सौ टन प्रति एकड़ टमाटर का उत्पादन किया जाता है।
28 अप्रैल को जैन नानडान फैक्ट्री की विजिट के साथ यहां महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री देवेंद्र फडनवीस के साथ मुलाकात होगी। साथ ही स्टेट आफ दि आर्ट डेयरी युनिट का अवलोकन भी किया जा सकेगा।
29 अप्रैल को एग्रीटेक-2015 एक्जीबिशन का अवलोकन करेंगे। 30 अप्रैल को दल के सदस्य पेट्रा की विजिट करेंगे। यह लाल सागर और मृत सागर के मध्य स्थित ऐतिहासिक शहर है, जहां पेट्रा आर्कियोलाजिकल पार्क भ्रमण किया जा सकेगा, जो कि दुनिया के अजूबों में से एक माना जाता है।

दल के सदस्य – इजराइल जाने वाले यात्रियों में कृषक जगत के सम्पादक श्री सुनील गंगराडे व संचालक श्री सचिन बोंद्रिया, जैन इरिगेशन के डायरेक्टर श्री संजय भंडारी, जिनेगर के वितरक श्री चेतन डेडिया, किसान एक्जीबिशन के श्री सत्यजीत मार्ने, श्रीचंद मोटवानी, श्री अनुकूल जैन, श्री अमित कंसोटिया, श्री जितेंद्र कपूर, श्रीमती हेमलता सुराना, श्री राजेंद्र सुराना, श्री सतीश जैन कसरावद, डॉ. पुखराज मारू (आईएएस), श्री मुकेश मिश्रा,श्री ललक सिंह, श्री पराग तारे, श्री हुकुमचंद्र, श्री काशीनाथ दत्ते, श्री सुभाषचंद्र भोंसले, डॉ. विजय बुंदेला, श्री दीपक त्यागी, श्री ध्यानोबा चामे, श्रीमती वीना अग्रवाल, श्री राजेंद्र अग्रवाल, श्री जुबिन जोगिना, श्रीमती किरण सेठी, श्री रवि सेठी, श्रीमती कुसुम डागा, श्री शिवरतन डागा, श्री राजेंद्र शिरोडे, श्री नीलेश पवार, श्री संदीपकृष्ण भामरे, श्री संभाजी खैरनार, श्री रवींद्र पाटिल, श्री संजय भामरे, श्री प्रतीक माली, श्री रमेशकुमार चौधरी, श्री अनंत कुमार शाह, श्री ऋषि अरोरा, श्री बालासाहेब बोल्हाजी गडेकर, श्री इमरान शेख, श्री मिलिन्द बोडके, श्री प्रदीप कुमार गुप्ता, श्री गणेश वसंत कुलकर्णी, श्री नरेंद्र पंडरीनाथ भींगे, श्रीमती निमिषा नरेंद्र भींगे, श्री बालासाहेब आत्माराम गावंडे, श्री सुधारकर मेंगने, श्री दत्तात्रेय दामोदर निफाडे, श्री दिलीप शिवराम मोरे, श्री दीपक काशीनाथ मोरे, श्री प्रमोद पांडुरंग मोरे, श्री शैलेष सुभाष पटने, श्री मिलापसिंह जडेजा, श्री हेमंत देसाई, श्री विनीत कुमार, श्री अमन संघवी, श्री अरविंद कंकर, श्री मुरलीधर अय्यर, श्री नवीन शर्मा, श्री विवेक वामन डांगरीकर, श्री अमरिश भावसार, श्री अखिलेश गुप्ता, श्री धीलन कांकिया, श्री दीपक पारीक, श्रीमती माधुरी शर्मा, श्री जोसेफ फ्रांसिस, श्री संजय तुकाराम नरूते, श्री प्रशांत अग्रवाल, श्री प्रेसी रूस्तम ढाला, श्री विजय बाजीराव महाले, श्री शरद पी. धोकरे, श्री बालासाहेब गडख, श्री सुरेश एकनाथ कलमकर, श्री प्रभाकर डी. निफाडे आदि शामिल रहेंगे।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − 6 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।