सहकारिता को आत्मसात कर काम करें

Share

भोपाल। सहकारिता राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री विश्वास सारंग ने कहा है कि समाज और राष्ट्र की प्रगति के लिये जरूरी है कि सहकारिता के क्षेत्र में काम कर रहे लोग इसे आत्मसात करे और इसके उन्नयन तथा उत्थान के लिये समर्पित होकर काम करें। श्री सारंग गत दिनों 63वें अखिल भारतीय सहकारी सप्ताह के समापन पर राज्य-स्तरीय संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। संगोष्ठी का आयोजन राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) ने किया।
राज्य मंत्री श्री सारंग ने कहा कि विषय में जिन शब्दों का उल्लेख किया गया है वे सभी जन्म से ही व्यक्ति के अंदर होते हैं। चाहे सहकारिता हो, सुशासन हो, मूल्य हो या नेतृत्व। उन्होंने कहा कि जरूरत इस बात की है कि हम इन्हें पहचाने और अपनी रोजाना की गतिविधियों में शामिल करें, तो हम सारी व्यवस्थाओं को बेहतर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सोच में भी परिवर्तन लाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सहकारिता को सुदृढ़ बनाने के लिये पिछले 11 साल में ठोस कदम उठाये गये हैं।
कार्यक्रम को वरिष्ठजन कल्याण आयोग के अध्यक्ष श्री वी.जी. धर्माधिकारी, सहकारी प्रबंध संस्थान के निदेशक श्री ए.के. अष्ठाना, सेवानिवृत्त अपर आयुक्त सहकारिता श्री पी.डी. मिश्रा, सहकारिता विशेषज्ञ श्री एल.डी. पंडित ने भी संबोधित किया। संगोष्ठी में राज्य मंत्री श्री सारंग ने अपेक्स बैंक की वेबसाइट का नये स्वरूप में लोकार्पण किया। उन्होंने राज्य सहकारी संघ द्वारा वसूली प्रबंध प्रशिक्षण मार्गदर्शिका की दो पुस्तकों का विमोचन भी किया।
उप सचिव सहकारिता एवं प्रशासक अपेक्स बैंक श्री प्रकाश खरे ने संगोष्ठी के उद्देश्य के बारे में बताया। अपेक्स बैंक के प्रभारी प्रबंध संचालक श्री प्रदीप नीखरा ने आभार माना।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.